IAS Rukmani Riar : रुक्मणी रियार ने बिना कोचिंग के पहली बार में निकली UPSC की परीक्षा, जानें डिटेल

IAS Rukmani Riar  : भारत की सबसे कठिन परीक्षा संघ लोक सेवा आयोग ( Union Public Service Commission ) की सिविल सेवा परीक्षा का नंबर सबसे पहले आएगा ! हर साल लाखों उम्मीदवार यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होते हैं और आईएएस ( Indian Administrative Service ) व आईपीएस ऑफिसर बनने का सपना देखते हैं !

IAS Rukmani Riar

IAS Rukmani Riar

New IAS Rukmani Riar

संघ लोक सेवा आयोग ( Union Public Service Commission ) की इस परीक्षा को पास कर ऑफिसर का पद हासिल करने में सफल हो पाते हैं ! आईएएस रुक्मणी रियार आज हम एक ऐसी ही उम्मीदवार की बात करेंगे, जिन्होंने इन लगभग 1000 उम्मीदवारों के बीच अपनी जगह बनाई है ! यहां तक कि उन्होंने इस देश की सबसे कठिन परीक्षा बिना किसी कोचिंग के पास कर ऑल इंडिया दूसरी रैंक हासिल की थी ! दरअसल, हम बात कर रहे हैं आईएएस ( Indian Administrative Service ) ऑफिसर रुक्मणी रियार की, जिन्होंने अपने पहले ही प्रयास में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा क्लियर कर ली थी.

कक्षा 6 में ही फेल

बता दें कि स्कूल में, आईएएस रुक्मणी रियार ( IAS Rukmani Riar ) बहुत प्रतिभाशाली छात्रा नहीं थीं ! आईएएस ( Indian Administrative Service ) वह कक्षा 6 में ही फेल हो गई थीं ! रुक्मणी ने अपनी प्रारंभिक स्कूली शिक्षा पंजाब के गुरदासपुर से पूरी की और फिर कक्षा 4 में डलहौजी के सेक्रेड हेरी स्कूल में एडमिशन ले लिया ! आईएएस रुक्मणी रियार ( IAS Rukmani Riar ) ने अमृतसर में गुरु नानक देव विश्वविद्यालय से सोशल साइंस में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की थी ! इसके अलावा उन्होंने मुंबई के टाटा इंस्टीट्यूट से सोशल साइंस में ही मास्टर डिग्री भी पूरी की.

Rukmani Riar मुंबई से पूरी पढाई

TISS मुंबई से अपनी मास्टर डिग्री पूरी करने के बाद, आईएएस रुक्मणी रियार ( IAS Rukmani Riar ) ने मैसूर में अशोदा और मुंबई में अन्नपूर्णा महिला मंडल जैसे गैर सरकारी संगठनों के साथ इंटर्नशिप भी की ! एनजीओ (NGO) के साथ काम करते हुए रुक्मणी सिविल सेवा की ओर आकर्षित हुईं और उन्होंने संघ लोक सेवा आयोग ( Union Public Service Commission ) परीक्षा में बैठने का फैसला किया.

IAS Rukmani Riar Success Story

साल 2011 में, आईएएस रुक्मणी रियार ( IAS Rukmani Riar ) ने पहली बार यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा दी और पहले ही प्रयास में उन्होंने यह परीक्षा क्रैक कर ऑल इंडिया दूसरी रैंक हासिल की ! आईएएस ( Indian Administrative Service ) बता दें कि उन्होंने इस परीक्षा की तैयारी के लिए कोई कोचिंग नहीं ली, उन्होंने केवल सेल्फ स्टडी के जरिए ही इस परीक्षा को क्रैक कर डाला ! संघ लोक सेवा आयोग ( Union Public Service Commission ) वह बताती हैं कि उन्होंने परीक्षा की तैयारी के लिए कक्षा 6 से 12वीं तक की NCERT की सभी किताबें पढ़ी और नियमित रूप से समाचार पत्र और पत्रिकाएं पढ़ती थीं.

IAS C Vanmathi Success Story : बचपन में चराती थी भैंस, आज हैं IAS अफसर, जानें सफलता का राज

IAS Success Story : यूट्यूब से वीडियो देख की यूपीएससी की तैयारी, पहले प्रयास में ही की परीक्षा पास