IAS Success Story : सिरसा की रहने वाली कंचन ने दूसरे ही प्रयास में सफलता हासिल कर 35वी रैंक के साथ टॉपर बनी

IAS Success Story Of Kanchan सिरसा की रहने वाली कंचन ने दूसरे ही प्रयास में सफलता हासिल कर 35वी रैंक के साथ टॉपर बनी : ऐसा कहा जाता है कि जीवन में सीखने के दो तरीके हैं ! एक अपने अनुभवों से सीखना है और दूसरा, दूसरों की गलतियों से सीखना है ! सलाह यह भी दी जाती है कि यदि आप हमेशा खुद से सीखने की कोशिश करते हैं, तो समय कम हो जाएगा ! हरियाणा के सिरसा के कंचन ( Kanchan ) ने भी इसी तकनीक को अपनाया और यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) परीक्षा में बहुत ही कम उम्र में अपने दूसरे प्रयास में ऑल इंडिया में 35वी रैंक लाकर IAS ( Indian Administrative Service ) बनी !

IAS Success Story Of Kanchan 

IAS Success Story Of Kanchan 

IAS Success Story Of Kanchan

हालांकि कंचन ( Kanchan ) को पहले ही प्रयास में UPSC CSE की परीक्षा में सफलता मिल गयी थी ! लेकिन, कंचन पहले प्रयास में मिली रैंक से संतुष्ट नहीं थीं और उन्होंने फिर से प्रयास किया ! अंत में, अपने दूसरे प्रयास में कंचन ने यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) परीक्षा में 35 वीं रैंक के साथ टॉप किया ! इसके साथ ही उन्हें अपनी मनमर्जी से आईएएस पद मिला, जिसके लिए वह बचपन से ही उत्सुक थीं ! कंचन हमेशा से IAS ( Indian Administrative Service ) बनना चाहती थी ! यह परीक्षा देने से पहले, वह आवश्यक शिक्षा पूरी करना चाहती थी !

सिरसा की रहने वाली कंचन ने दूसरे ही प्रयास में सफलता हासिल कर 35वी रैंक के साथ टॉपर बनी

कंचन बचपन से ही IAS ( Indian Administrative Service ) बनना चाहती थी ! इसलिए जब पहले प्रयास में यह रैंक नहीं मिली, तो उन्होंने फिर से कोशिश की ! अगर हम कंचन की शैक्षिक पृष्ठभूमि के बारे में बात करते हैं, तो कंचन छोटी उम्र से ही पढ़ाई में अच्छी थीं ! उनकी प्रारंभिक शिक्षा सिरसा में हुई और बाद की पढ़ाई के लिए वे चंडीगढ़ चले गए ! 12 वीं के बाद कंचन ( Kanchan ) दिल्ली चली गईं और वहां लॉ यूनिवर्सिटी से लॉ में स्नातक किया ! स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के तुरंत बाद, कंचन ने यूपीएससी सीएसई परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी ! चूंकि कंचन ने कानून में स्नातक किया था और यह उनका पसंदीदा विषय था, इसलिए उन्होंने यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) में भी अपना वैकल्पिक कानून बनाया !

पाठ्यक्रम और रणनीति पर विशेष ध्यान दें IAS Success Story Of Kanchan

कंचन तैयारी के बारे में बात करते हुए कहती हैं कि सबसे पहले सिलेबस पर पूरा ध्यान दें ! वह पाठ्यक्रम को इतना महत्वपूर्ण मानती है कि वह सलाह देती है कि यदि संभव हो तो उसे याद रखना चाहिए ! इसके बाद, एक और महत्वपूर्ण बिंदु पर आएं और वह है रणनीति बनाना ! इसके लिए कंचन ( Kanchan ) की राय है कि इंटरनेट से या जहां से भी आप दूसरों की रणनीति देखना चाहते हैं या मार्गदर्शन लेना चाहते हैं, IAS ( Indian Administrative Service ) बनने के लिए अपनी यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) की तैयारी अपने आधार पर करें, यानी अपनी रणनीति खुद के अनुसार बनाएं और उसके अनुसार नहीं अन्य !

 सभी के लिए कंचन की सलाह 

कंचन कहती हैं कि सिलेबस देखने के बाद किताबों को सीमित रखें वरना कोर्स कभी खत्म नहीं होगा और आप अगले महत्वपूर्ण चरण यानी रिविजन में नहीं आ पाएंगे ! कम किताबें बार-बार पढ़ें ! जब तैयारी एक स्तर पर पहुंच जाती है, तो मॉक टेस्ट दें ! यह आपके IAS ( Indian Administrative Service ) बनने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है साथ ही यह कई तरह से लाभ देता है ! आप यह जान पाएंगे कि कौन सी रणनीति आपके लिए काम करती है ! इसे अपनाएं और समय रहते यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) परीक्षा में आपके द्वारा की जा रही गलतियों को दूर करें ! अंत में, कंचन ( Kanchan ) का कहना है कि एक अध्ययन समय-सारणी बनाएं और उसके अनुसार तैयारी करें ताकि कोई भी आवश्यक हिस्सा आपसे छूट न जाए ! किस समय में, क्या खत्म करना है, सब कुछ नीचे लिखें और उसी रिकॉर्डिंग पर जाएं !

IAS Success Story : बचपन में खो दी आंखों की रोशनी, जब मां ने कहा अब कौन करेगा शादी

IAS Success Story Of Veer Pratap Singh Raghav : किसान का बेटा असफलताओं का सामना कर बना IAS