IAS Success Story : एक स्कूल हादसे नें चली गई थी आंखों की रोशनी, अब बनीं देश की पहली नेत्रहीन IAS अफसर

UPSC IAS Success Story of Pranjal Patil एक स्कूल हादसे नें चली गई थी आंखों की रोशनी, अब बनीं देश की पहली नेत्रहीन IAS अफसर : हम हर दिन आपको ऐसे छात्रों के बारे में बताते हैं जो अपने कड़ी मेहनत और संघर्ष से देश की सबसे कठिन UPSC Civil Services परीक्षा में सफलता हासिल करते हैं ! आज भी हम इस कड़ी में आपको एक ऐसी ही लड़की के बारे में बताने जा रहे है, जो आपको प्रेरित करने में को कसर नहीं छोड़ेगी !

UPSC IAS Success Story of Pranjal Patil : एक स्कूल हादसे नें चली गई थी आंखों की रोशनी, अब बनीं देश की पहली नेत्रहीन IAS अफसर

UPSC IAS Success Story of Pranjal Patil

UPSC IAS Success Story of Pranjal Patil

ये कहानी एक ऐसी लड़की की है जिन्होंने बेहद ही छोटी उम्र में अपनी आंखों की रोशनी खो दी, लेकिन कभी हार नहीं मानी और आज IAS अफसर हैं ! इस लड़की का नाम IAS अफसर प्रांजल पाटिल है ! उनकी आंखों की रोशनी किसी बीमारी की वजह से नहीं गई बल्कि स्कूल में एक छात्र ने उनकी आंख में पेंसिल मार दी थी, जिसके चलते उनकी आंखों की रोशनी चली गई ! इस घटना ने प्रांजल को बुरी तरह तोड़ दिया था लेकिन वे फिर भी रुकी नहीं बल्‍कि अपने अपने मुकाम को पाने में डटी रहीं !

IAS अफसर प्रांजल के सफलता की कहानी

इसका नतीजा ये हुआ कि आज वे देश की पहली नेत्रहीन Indian Administrative Service IAS के पद पर तैनात हैं और देश को अपनी सेवा दे रही है ! फिलहाल वो केरल के तिरुवनंतपुरम जिले में पोस्टेड हैं ! अपने एक इंटरव्यू के दौरान प्रांजल पाटिल ने अपने बार में काफी बातें बताई ! प्रांजल महाराष्‍ट्र के उल्‍लास नगर की रहने वाली हैं ! वे पढ़ाई में बचपन से ही अच्‍छी थीं, जब वे छठवीं क्‍लास में थीं उस वक्‍त उनकी क्‍लास की एक स्‍टूडेंट्स से उनकी आंख में पेंसिल मार दी थी ! इससे उनकी एक आंख की रोशनी चली गई ! इसके बाद अगले साल ही उनकी दूसरी आंख की रोशनी भी चली गई !

ब्रेल लिपि से पढ़ाई रखी जारी | IAS Success Story

प्रांजल ने इंटरव्यू के दौरान बताया कि धीरे-धीरे उनकी दोनों आंखों की रोशनी जाने के बाद भी उन्होंने कभी हार नहीं मानी ! इसके बाद उन्‍होंने ब्रेल लिपि के जरिए अपनी पढ़ाई को जारी रखा ! साथ ही उन्‍होंने पढ़ाई के लिए एक ऐसे सॉफ्टेवयर की भी मदद ली, जिसे वे सुनकर अपनी पढ़ाई किया करती थीं ! इस तकनीक की जितना साथा मिला प्रांजल ने खुद को उतना मजबूत बनाया !

UPSC IAS Success Story : IAS बनने की ठानी

वो आगे बताती हैं कि बचपन से उन्होंने IAS अफसर बनने की ठान ली थी ! हालांकि इसके पहले उन्‍होंने दूसरी कई प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी भी दी थीं, लेकिन उन्‍होंने अपना खास फोकस IAS Exam पर ही रखा ! साथ ही उन्‍होंने साल 2016 में पहली बार UPSC की परीक्षा दी थी !

दूसरे प्रयास में मिली सफलता

Indian Administrative Service UPSC IAS Success Story of Pranjal Patil प्रांजल बताती हैं कि उन्होंने अपने पहले प्रयास में 733 वीं रैंक हासिल की थी, जिससे वो संतुष्ट नहीं थी ! इसके बाद उन्होंने अपनी रैंक सुधारने के लिए दोबारा प्रयास किया ! उन्‍होंने दोबारा पढ़ाई शुरू की और पिछली बार से ज्यादा जी तोड़ तैयारी की और इस बार उनकी मेहनत रंग लाई ! साल 2017 में उन्‍होंने 124वीं रैंक हासिल की और IAS पद के लिए चुन ली गई !

यह भी पढ़ें:- IAS Success Story : पिता करते थे सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी, बेटे ने IAS बन किया नाम रोशन