IAS Success Story OF Sumit Kumar : छोटी सी उम्र में घर छोड़ कर किया UPSC एग्जाम में टॉप

IAS Success Story OF Sumit Kumar : जो बच्चे पढ़ाई का दबाव नहीं झेल पाते हैं और माता-पिता कई बार घर छोड़ देते हैं ! क्रोध और गुस्से में बच्चे एक निविदा उम्र में घर छोड़ देते हैं ! कई बार बच्चे गाँव में नहीं पढ़ते हैं और घर से दूर रहते हैं ! माता-पिता छाती पर पत्थर रखते हैं और बच्चों को उनसे दूर भेजते हैं ! लेकिन आपका बच्चा घर छोड़कर IAS (Indian Administrative Service) अधिकारी के रूप में कैसे लौटना चाहिए ! यह सुनकर लोग हैरान हैं लेकिन ऐसा हुआ भी है ! बिहार के जमुई जिले के सिकंदरा के रहने वाले सुमित कुमार ने 8 साल की उम्र में घर छोड़ दिया ! वह घर से दूर रहे और कक्षा 4 से 12 तक की पढ़ाई की ! वर्ष 2018 में सुमित एक अधिकारी के रूप में घर लौटे ! उनकी स्थिति देखकर माता-पिता दंग रह गए !

IAS Success Story Of Sumit Kumar : छोटी सी उम्र में घर छोड़ कर किया UPSC एग्जाम में टॉप

IAS Success Story Of Sumit Kumar छोटी सी उम्र में घर छोड़ कर किया UPSC एग्जाम में टॉप
IAS Success Story Of Sumit Kumar छोटी सी उम्र में घर छोड़ कर किया UPSC एग्जाम में टॉप

सुमित कुमार के पिता का नाम सुशील कुमार वर्णवाल है और उनकी मां का नाम मीना देवी है ! देश की सबसे प्रतिष्ठित सेवा के लिए उनका चयन होने पर उनके परिवार के साथ ही इलाके के लोग भी काफी खुश थे बता दें कि सुमित कुमार ने 8 साल की उम्र में ही पढ़ाई के लिए घर छोड़ दिया था गांव में अच्छे स्कूल नहीं थे ! इसलिए छोटी उम्र से उन्होंने बाहर रहकर पढ़ाई की पर उस समय कौन जानता था कि यह लड़का एक आईएएस (Indian Administrative Service)  अफसर बन कर वापस आएगा

सुमित कुमार को 2017 की यूपीएससी (Union Public Service Commission) परीक्षा में 493वीं रैंक मिली थी और डिफेंस कैडर मिला था ! उन्होंने दोबारा यूपीएससी परीक्षा दी और साल 2018 में 53वीं रैंक के साथ टॉप करके इतिहास रच दिया उनके अफसर बनने की खुशी से परिवार के सदस्य बहुत खुश हुए थे वो अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को ही देते हैं जिन्होंने उनके उज्जवल भविष्य के लिए कड़े फैसले लिए सुमित ने 2007 में मैट्रिक और 2009 में इंटर की परीक्षा पास की 2009 में ही उनका चयन आईआईटी के लिए हुआ और उन्होंने आईआईटी कानपुर से बीटेक की पढ़ाई पूरी की यूपीएससी परीक्षा में सफलता पाने के लिए सुमित कुमार ने कई बातें पर खास जोर दिया है जिन्हें जानना प्रत्याशियों के लिए जरूरी होगा !

सुमित कुमार ने कहा कि इंटरव्यू

Sumit Kumar का कहना है कि यूपीएससी (Union Public Service Commission) की परीक्षा में सफलता पाने के लिए प्रीलिम्स और मेन्स के साथ इंटरव्यू की तैयारी पर जोर देना बहुत जरूरी है ! कई कैंडिडेट्स इसी में पिछड़ जाते हैं क्योंकि वे इसके लिए खास तौर पर स्ट्रैटजी नहीं बना पाते है ! सुमित कुमार ने कहा कि आईएएस (Indian Administrative Service) इंटरव्यू के दौरान अलग-अलग कैंडिडेट्स से जो सवाल पूछे जाते हैं ! वे उनके डिटेल्ड एप्लिकेशन फॉर्म में दी गई जानकारियों के आधार पर पूछे जाते हैं ! हर कैंडिडेट की जानकारी किस क्षेत्र में ज्यादा है ! उसकी रुचियां क्या हैं इंटरव्यू में सवाल पूछते हुए सबका ध्यान रखा जाता है ! इसलिए इस फॉर्म मे सही जानकारी देनी चाहिए !

Union Public Service Commission

यूपीएससी (Union Public Service Commission) परीक्षा के कैंडिडेट्स के लिए उनका यही संदेश है ! कि वे आपने माहौल के प्रति जागरूक रहें इंटरव्यू में ज्यादातर सवाल करंट अफेयर्स से भी जुड़े होते हैं ! इसलिए अखबार और मैगजीन हमेशा पढ़ते रहें ! सुमित ने कहा कि साक्षात्कार के लिए अभ्यास करना आवश्यक है ! मॉक इंटरव्यू से बहुत फायदा होता है इसके अलावा आईएएस (Indian Administrative Service) साक्षात्कार के दौरान बॉडी लैंग्वेज पर विशेष ध्यान देना जरूरी है ! दर्पण के सामने भी अभ्यास किया जा सकता है ! उन्होंने कहा कि कई बार हम जानने के समय सवाल का सही जवाब देने में असमर्थ होते हैं यह घबराहट के कारण होता है ! इसलिए आत्मविश्वास बनाए रखने के लिए भी अभ्यास करना चाहिए !

यह भी जानें : IAS Success Story Of Himadri Kaushik : दूसरे प्रयास में किया UPSC परीक्षा में टॉप बनी आईएएस अधिकारी

IAS Success Story Of Shweta Chauhan : तीसरे प्रयास में किया UPSC में टॉप बनी आईएएस अधिकारी

Advertisement