IAS Success Story : अपने दूसरे प्रयास में UPSC परीक्षा में टॉप करने वाले आलोक कुमार की सफलता का राज क्या है जानिए

IAS Success Story Of Topper Alok Kumar अपने दूसरे प्रयास में UPSC परीक्षा में टॉप करने वाले आलोक कुमार की सफलता का राज क्या है जानिए : 12 महीने 2018 में, UPSC CSE परीक्षा में आलोक कुमार ( Alok Kumar ) अव्वल रहे ! यह उनकी दूसरी कोशिश थी ! पहले प्रयास में, वह परीक्षा के पहले चरण को प्राप्त नहीं कर पाए ! यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) परीक्षा के लिए तैयार होने की आलोक की तकनीक काफी आसान है, आलोक कहते हैं कि इस शैली में प्रत्येक उम्मीदवार को अपनी तकनीक को अपने व्यक्तिगत के अनुसार बनाने की आवश्यकता होती है, हालांकि हर कोई कुछ मुख्य वस्तुओं का ध्यान रख सकता है ! वे तकनीक के रूप में इतना सरल मानते हैं कि तैयारी प्रभावी ढंग से आगे बढ़ सकती है !

IAS Success Story Of Topper Alok Kumar अपने दूसरे प्रयास में UPSC परीक्षा में टॉप करने वाले आलोक कुमार की सफलता का राज क्या है जानिए

IAS Success Story Of Topper Alok Kumar
IAS Success Story Of Topper Alok Kumar

सबसे पहले यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) के सिलेबस पर एक नज़र डालें और उसके अनुसार किताबें चुनें ! बस यह देखते हुए कि बहुत सारी किताबों पर निर्णय नहीं लिया जा सकता है क्योंकि इसके परिणामस्वरूप इसे पूरा नहीं किया जा सकता है ! पूर्व के लिए आवश्यक 5 विषयों को समान समय दें और किसी भी प्रकार के महत्व के वाक्यांशों पर ध्यान न दें ! जब सिलेबस खत्म हो जाता है, तो चेक अनुक्रम को हल करें ! आलोक ( Alok Kumar ) टेस्ट सीक्वेंस को तैयारी का एक जरूरी हिस्सा मानते हैं !

समय का जरूर ध्यान रखें

आलोक का कहना है कि यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) परीक्षा की व्यवस्था करने के लिए दिल्ली वापस आना महत्वपूर्ण नहीं है ! यदि आप पढ़ने के किसी मकसद से किसी बढे शहर में जाकर किसी कोचिग में नहीं जा सकते हैं, तो अपने विचारों में कमी न करें ! सब कुछ ऑनलाइन के माध्यम से भी किया जा सकता है, शिक्षण से लेकर अनुक्रम जाँचना, वह से फायदा ले ! वे आमतौर पर शारीरिक शिक्षा से कम नहीं हैं ! अपने बारे मे बताते हुए उनका कहना है कि उन्होंने परीक्षा को समझने के लिए एक 12 महीने तक पढाई की जिसके बाद उन्होंने स्वयं अध्ययन किया !

अपनी शक्ति और सप्ताहांत के अनुसार निर्णय लें IAS Success Story Of Topper Alok Kumar

इस विषय के बारे में आलोक  कि इंटरनेट से बहुत मदद मिल सकती है ! वह हमे टॉपरों के साक्षात्कार, उनके समाधान को देखें और तैयारी की तकनीक तैयार किस प्रकार की गयी है ! वहाँ से सहायता ले,  हालांकि उनके कौशल के अनुसार उनकी पसंद करें ! इंटरनेट पर बहुत सारे कैंडिडेट्स के साक्षात्कार मौजूद है, लेकिन आप उनकी नक़ल करने की कोशिश न करे ! केवल आपको पता है कि आपकी पढ़ने की शक्ति या सप्ताहांत कितनी क्या है, अपने स्वयं के लिए अपनी योग्यता के अनुसार योजना बनाएं ! कई बार कोई व्यक्ति राजनीति को शीघ्र ही समझ लेता है और नैतिकता में समय लगता है और शायद निबंध जैसे विषय में भी किसी को कोई समस्या होती है ! ऐसे मामलों में, विषय की अनुसूची बनाने के लिए तरीके देखें, जो कि आपके कौशल और इच्छाओं में आधारित होना चाहिए, किसी और से प्रभावित नहीं होना चाहिए !

कोमल का अनुभव

आलोक ( Alok Kumar ) का मानना ​​है कि आप शोध के लिए दिल्ली आ पाएंगे या नहीं (दिल्ली यूपीएससी की तैयारी के लिए कॉलेज के छात्रों का पहला चयन है), आप शिक्षण का हिस्सा बन पाएंगे या नहीं, सभी इन  सभी चीजों से आपकी सफलता पर कोई फर्क नहीं पड़ता है ! कभी-कभी सफलता मिलने में समय लगता है, हालाँकि इससे घबराने की जरूरत नहीं और न ही यह देखकर दुखी हो की हमे असफलता है ! हर व्यक्ति पूरी तरह से अलग है और उसके कौशल पूरी तरह से अलग हैं, इसलिए किसी को भी अपने आप से तुलना न करें अपने सबसे बड़े और परिणाम के बारे में चिंता करना छोड़ दें ! किसी भी तरह से एक ईमानदार प्रयास खाली नहीं जाता है !

IAS Success Story : प्रतिभा वर्मा महिला उम्मीदवारों में शीर्ष पर रहीं तबीयत खराब होने के बावजूद भी दी परीक्षा और तीसरे प्रयास में बनी टॉपर

IAS Success Story : फरीदाबाद के रहने वाले लोकेश यादव ने आईआईटी और आईआईएम जैसे संस्थानों से पढ़ाई के बाद यूपीएससी में जाने का सोचा पहले ही प्रयास में बन गए आईएएस ऑफिसर

IAS Success Story : तृप्ति ने शादी के बाद भी जारी रखी यूपीएससी की तैयारी कई असफलताओ के बाद चौथे प्रयास में सफल होकर हासिल की 16 वी रैंक

Advertisement