IAS Success Story : प्रतिभा वर्मा महिला उम्मीदवारों में शीर्ष पर रहीं तबीयत खराब होने के बावजूद भी दी परीक्षा और तीसरे प्रयास में बनी टॉपर

IAS Success Story Of Topper Pratibha Verma प्रतिभा वर्मा महिला उम्मीदवारों में शीर्ष पर रहीं तबीयत खराब होने के बावजूद भी दी परीक्षा और तीसरे प्रयास में बनी टॉपर : सफलता हमेशा परिणामों के बारे में नहीं होती है ! यह उस यात्रा के बारे में है जो आपको अंतिम लक्ष्य की ओर ले जाती है ! सफलता सभी के लिए निरंतर कड़ी मेहनत और दृढ़ संकल्प है ! यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) सबसे ज्यादा मांगी जाने वाली सरकारी परीक्षा बन गई है ! यह उन पदों के कारण है जो यह प्रदान करता है ! IAS ( Indian Administrative Service ) भारत में सबसे सम्मानित नौकरियों में से एक है ! प्रतिभा वर्मा ( Pratibha Verma ) ने अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा 2019 में आल इंडिया में तीसरी रैंक हासिल की ! ​​

IAS Success Story Of Topper Pratibha Verma प्रतिभा वर्मा महिला उम्मीदवारों में शीर्ष पर रहीं तबीयत खराब होने के बावजूद भी दी परीक्षा और तीसरे प्रयास में बनी टॉपर

IAS Success Story Od Topper Pratibha Verma
IAS Success Story Od Topper Pratibha Verma

अपने स्कूल और कॉलेज में टॉपर रहीं वर्मा यह सुनकर हैरान रह गईं कि उन्होंने IAS परीक्षा में AIR 3 हासिल किया और महिला उम्मीदवारों में भी अव्वल रहीं ! प्रतिभा वर्मा ( Pratibha Verma ) अपनी IAS ( Indian Administrative Service ) बनने की पढाई की शुरुआत के बाद से, उन्होंने अपना लक्ष्य निर्धारित किया था और पूर्ण समर्पण के साथ एक निश्चित कार्यक्रम के अनुसार काम किया ! पिछले साल बीमार पड़ने के बावजूद भी यूपीएससी की तैयारी  ( UPSC Civil Services ) जारी रखी और यह उसी प्रयास की वजह से उन्हें तीसरी रैंक मिल सकी !

दो शिक्षकों की बेटी

प्रतिभा वर्मा ( Pratibha Verma ) सुल्तानपुर की मूल निवासी हैं, जहाँ से उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की ! दो शिक्षकों की बेटी है, उनके माता-पिता ने उन्हें प्रेरित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई ! उनके पिता शिवांश वर्मा सुल्तानपुर के बाबू भगवानदास आदर्श इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल हैं, जबकि उनकी मां उषा वर्मा वहां एक प्राइमरी स्कूल की हेडमिस्ट्रेस हैं ! और माँ एक स्कूल शिक्षक हैं ! प्रतिभा वर्मा पूरे समय एक प्रतिभाशाली छात्रा रही है ! अपनी स्कूली शिक्षा के बाद, वह आईआईटी प्रवेश परीक्षा के माध्यम से आई और बीटेक के लिए आईआईटी ( IIT ) दिल्ली में एक सीट हासिल की ! और अपनी पढाई वही से पूरी की ! IAS ( Indian Administrative Service )  बनने के सपने को लेकर वो बहुत ही मन लगाकर और कड़ी मेहनत से पढाई करती थी !

आईआईटी से किया स्नातक IAS Success Story Of Topper Pratibha Verma

उन्होंने 2014 में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी-दिल्ली से स्नातक किया और कुछ कार्य अनुभव हासिल करने के लिए दो साल तक एक निजी फर्म के साथ काम किया ! हालांकि, सिविल सेवा हमेशा उसके दिमाग में थी, जब से वह स्कूल के दौरान एनएसएस से जुड़ी थी ! महिला सशक्तिकरण के लिए काम करने वाले एनजीओ के साथ काम करने के बाद, प्रतिभा वर्मा ( Pratibha Verma ) को पता था कि यह एक ऐसा क्षेत्र है जिसमें वह भविष्य में काम करना चाहती थी, और उस सपने को सच करने के लिए यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) की परीक्षा देकर एक साधन के रूप में IAS ( Indian Administrative Service ) बनने का फैसला ले लिया !

उनके पिछले प्रयास IAS Success Story Of Topper Pratibha Verma

किसी को भी अपने पहले ही प्रयास में सफलता हासिल नहीं होती है ! प्रतिभा ने अपने तीसरे प्रयास में IAS ( Indian Administrative Service ) परीक्षा में सेंध लगाई ! उन्होंने पहली बार 2017 मे यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) की परीक्षा दी थी, उस समय वह यूपीएससी प्रीलिम्स क्लियर करने में असफल रही ! यूपीएससी 2018 में अपने दूसरे प्रयास में, वर्मा ( Pratibha Verma ) ने परीक्षा उत्तीर्ण की और 489 रैंक हासिल की ! उसके बाद उन्हें अपनी गलतियों का एहसास हुआ ! वह नागपुर में आयकर आयुक्त के रूप में तैनात थीं ! तीसरे प्रयास में उन्होंने यूपीएससी परीक्षा 2019 में आल इंडिया में तीसरी रैंक हासिल की !

सभी कैंडिडेट्स के लिए प्रतिभा की सलाह 

एक व्यक्ति को उस विषय पर एक अच्छी कमांड होनी चाहिए, जिस विषय में वो ज्यादा दिलचस्पी रखता हो ! IAS टॉपर प्रतिभा वर्मा ( Pratibha Verma ) ने सुझाव दिया कि IAS ( Indian Administrative Service ) परीक्षा के सभी चरणों को निरंतरता में तैयार किया जाना चाहिए क्योंकि आईएएस ( IAS ) परीक्षा के सभी स्तम्भ एक दुसरे से जुड़े हुए हैं ! एक चरण में की गयी तैयारी दुसरे चरणों में मदद करती है ! इसके साथ ही प्रीलिम्स का प्रयास करने से पहले 30 से 40 मॉक अभ्यास परीक्षण करके निरंतर अभ्यास करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए ! IAS परीक्षा में सफल होकर उन्होंने अपने परिवार और शहर को गौरवांतित किया !

IAS Success Story : फरीदाबाद के रहने वाले लोकेश यादव ने आईआईटी और आईआईएम जैसे संस्थानों से पढ़ाई के बाद यूपीएससी में जाने का सोचा पहले ही प्रयास में बन गए आईएएस ऑफिसर

IAS Success Story : तृप्ति ने शादी के बाद भी जारी रखी यूपीएससी की तैयारी कई असफलताओ के बाद चौथे प्रयास में सफल होकर हासिल की 16 वी रैंक

IAS Success Story : 4 बार असफल होने के बाद पांचवें प्रयास में मिली सफलता 39 वीं रैंक हासिल की IAS रूचि बिंदल ने

Advertisement