IAS Success Story : वकालत छोड़कर वैशाली ने शुरू की UPSC की तैयारी, ये रणनीति अपनाकर पाई 8वीं रैंक

IAS Success Story of Topper Vaishali Singh वकालत छोड़कर वैशाली ने शुरू की UPSC की तैयारी, ये रणनीति अपनाकर पाई 8वीं रैंक : हमने अब तक कई की सफलता के किस्से सुने और पढ़े हैं, लेकिन आज जिनके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं वो एक लॉ (LAW) की स्टूडेंट थी और अचानक है UPSC (Union Public Service Commission ) पास कर बन गई आईएएस अफसर ! जी हां, हम बात कर रहे हैं फरीदाबाद की रहने वाली वैशाली सिंह की ! सबसे पहले तो आप ये जान लिजिए कि वैशाली सिंह ने UPSC की परीक्षा में 8वीं रैंक हासिल की थी !

IAS Success Story of Topper Vaishali Singh : वकालत छोड़कर वैशाली ने शुरू की UPSC की तैयारी, ये रणनीति अपनाकर पाई 8वीं रैंक

IAS Success Story of Topper Vaishali Singh - वकालत छोड़कर वैशाली ने शुरू की UPSC की तैयारी, ये रणनीति अपनाकर पाई 8वीं रैंक
IAS Success Story of Topper Vaishali Singh – वकालत छोड़कर वैशाली ने शुरू की UPSC की तैयारी, ये रणनीति अपनाकर पाई 8वीं रैंक

वैशाली सिंह पेशे से वकील हुआ करती थीं, लेकिन उनके मन में हमेशा से Civil Services में जाने की इच्छा थी ! इसलिए उन्‍होंने कुछ समय बाद वकालत छोड़कर Civil Services की तैयारी शुरू की ! अपने एक इंटरव्यू के दौरान वैशाली ने बताया कि जब उन्होंने पहली बार इस परीक्षा को दिया तब उनको असफलता हाथ लगी, लेकिन अपने दूसरे प्रयास में उन्‍होंने हार नहीं मानीं ! वो लगातार इसकी तैयारी में डटी रहीं ! आखिरकार इसका नतीजा ये हुआ कि उन्‍हें सफलता पाकर 8वीं रैंक हासिल की !

IAS वैशाली सिंह के सफलता की कहानी 

वैशाली सिंह फरीदाबाद के बल्लभगढ़ की रहने वाली है ! यहीं से उनकी शुरूआती पढ़ाई-लिखाई हुई है ! इसके बाद उन्‍होंने वकालत की डिग्री हासिस की और कुछ समय तक Corporate law में काम भी किया, लेकिन उनका मन वहां नहीं लगा, क्योंकि वो UPSC करना चाहती थी ! इसलिए उन्‍होंने जॉब छोड़कर Civil Services Exam की तैयारी करने का फैसला किया !

साल 2017 में उन्‍होंने पहली बार परीक्षा दी लेकिन फेल हो गईं ! पहले प्रयास में भले ही वो एग्‍जाम क्रैक नहीं कर पाईं, लेकिन वो बताती हैं रि इस दौरान उनसे हुई गलतियों से उन्‍होंने काफी कुछ सीखा और साथ ही उन्‍होंने कोशिश कि ये गलतियां उनसे दोबारा न हो !

रात भर पढ़ाई को किया इग्‍नोर | IAS Success Story

अपने एक इंटरव्यू के दौरान वैशाली ने बताया कि जैसे वो रात भर जागकर पढ़ाई किया करती थीं, जिसके चतलते उनका शेड्यूल बिगड़ गया था ! वो बताती हैं कि उन्‍हें दिन में नींद आने लगी थी ! उन्‍होंने इंटरव्‍यू में बताया कि परीक्षा सुबह होती थी और उन्‍हें नींद आती थी !

IAS Success Story : एक सवाल को पढ़ने में लगते थे 2 मिनट

Indian Administrative Service वैशाली आगे बताती हैं कि उनकी इस आदत की वजह से उन्‍हें काफी मुश्‍किलों का सामना करना पड़ा ! वैशाली कहती हैं कि हालात ये हो गई कि परीक्षा के दौरान उन्‍हें एक सवाल को समझने में करीब 2 मिनट तक का वक्‍त लगता था !

टाइम टेबल पर दें ध्‍यान | IAS Success Story

अपने टाइम टेबल को लेकर वैशाली बताती हैं कि उम्‍मीदवार इसलिए इस बात का ध्‍यान रखें कि वे परीक्षा के दो महीने पहले कैंडिडेट्स को अपना टाइम टेबल बदल देना चाहिए ! वैशाली बताती हैं कि उन्हें परीक्षा के टाइम के अनुसार इसकी तैयारी करनी चाहिए, ताकि उस वक्त आप खुद को रिफ्रेश महसूस करें !

ऐसे मिली सफलता

IAS Success Story of Topper Vaishali Singh आखिर में वैशाली सिंह बताती हैं कि इन सभी कमियों को पहचानने के बाद मैंने इन पर काम करना शुरू किया ! धीरे-धीरे मैंने खुद में बदलाव किया और फिर साल 2018 में आखिरकार मुझे सफलता मिल गई ! मैंने UPSC Exam क्रैक कर ली थी और 8वीं रैंक हासिल की और IAS अफसर बन कर देश को अपनी सेवा दे रही हैं !

यह भी पढ़ें:- IAS Success Story : टीना डाबी की सफलता का सबसे बड़ा कारण
Previous articleOnline Gift Business : क्रिसमस और न्यू ईयर से पहले शुरू करें अपना ऑनलाइन गिफ्ट बिजनेस, होगी बंपर कमाई
Next articleराजस्थान लोक सेवा आयोग भर्ती 2021 – RPSC RAS Bharti 2021 Apply Now