IAS Success Story : 7 साल तक UPSC तैयारी करने के बाद पाँचवे प्रयास में बनें IAS

IAS Success Story Of Yashwant Meena : 7 साल तक UPSC तैयारी करने के बाद पाँचवे प्रयास में बनें IAS : यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) की परीक्षा में आने वाले हर कैंडिडेट का अपना अलग अनुभव होता है ! कोई यहां पहले ही प्रयास में सफलता प्राप्त कर लेता है, तो किसी को यहां अपना सपना पूरा करने के लिए सालों संघर्ष करना पड़ता है ! ऐसे ही राजस्थान के यशवंत मीणा ( Yashwant Meena ) है जिन्होंने चार बार यूपीएससी की परीक्षा दी ! और पाचवे प्रयास में सफलता मिली और IAS ( Indian Administrative Service ) बने !

 7 साल तक UPSC तैयारी करने के बाद पाँचवे प्रयास में बनें IAS

IAS Success Story - 7 साल तक UPSC तैयारी करने के बाद पाँचवे प्रयास में बनें IAS

IAS Success Story

यशवंत ने अपनी पाँचवे प्रयास की परीक्षा में वर्ष 2019 की यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) परीक्षा उत्तीर्ण की ! इससे पहले भी उन्होंने चार बार परीक्षा दी थी लेकिन उनका चयन नहीं हुआ था ! यदि पाँच प्रयासों को बड़े पैमाने पर वर्षों में बदल दिया जाता है, तो यशवंत मीणा ( Yashwant Meena ) को कम से कम सात साल लग गए ! इस परीक्षा में IAS ( Indian Administrative Service ) बनने की सफलता के लिए कोई गारंटी नहीं है, तब भी अपने जीवन के इतने साल देना आसान नहीं है !

स्नातक के बाद बीटेक की पढाई पूरी की 

यशवंत का जन्म राजस्थान के जयपुर में हुआ था ! यशवंत मीणा ( Yashwant Meena ) पढ़ाई में हमेशा से होशियार थे ! उन्होंने हाईस्कूल और इंटरमीडिएट में अच्छे नंबर प्राप्त किए ! इसके बाद उन्होंने इंजीनियरिंग में करियर बनाने का फैसला किया और इंजीनियरिंग की पढाई पूरी की ! उसके बाद यशवंत ने बीटेक किया, बीटेक पूरा होने के तुरंत बाद, यशवंत ने यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी, लेकिन उनका चयन नहीं हो रहा था ! IAS ( Indian Administrative Service ) बनने की सलाह उनके घर वालो ने दी उन्हें !

यह भी जानें :  Success Story of IAS Pradeep Singh : मजदूरी करने वाले का बेटा बना सबसे कम उम्र में IAS अफसर

IAS बनने के लिए 7 साल का लम्बा सफर तय किया IAS Success Story Of Yashwant Meena

अपनी पूरी पढाई करने के बाद यशवंत को कई बार यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) में असफलता मिली ! अपने तीसरे प्रयास में, यशवंत साक्षात्कार के दौर में पहुँच गए लेकिन फिर भी उनका चयन नहीं हुआ ! जहां लोग इसे निराशाजनक बात कहेंगे, वहीं यशवंत को भी IAS ( Indian Administrative Service ) बनने के लिए इसमें आशा की किरण दिखाई दी !

यह भी जानें :- IAS Success Story : ऑटो ड्राइवर के बेटे ने 21 साल की उम्र में UPSC किया पास और बने IAS अफसर

यशवंत मीणा को प्रेरणा मिली कि जब वह यहां तक ​​पहुंच सकते हैं, तो आगे भी पहुंच सकते हैं ! इस तरह, यशवंत ( Yashwant Meena ) ने बार-बार की हार से विचलित हुए बिना अपने बचपन के सपनों को हासिल करने के लिए अपने सपने छोड़ दिए ! और पाँचवे प्रयास में उन्होंने ऑल इंडिया में 797 रैंक लेकर अपना सपना पूरा किया !

यशवंत की सलाह : 7 साल तक UPSC तैयारी करने के बाद पाँचवे प्रयास में बनें IAS

मेन्स पेपर के लिए, यशवंत मीणा ( Yashwant Meena ) कहते हैं कि अपने उत्तरों को विशेष बनाने की कोशिश करें और उनमें डेटा, तथ्य, आरेख आदि डालें, ताकि परीक्षक पर अच्छा प्रभाव पड़े ! मुख्य परीक्षा से पहले बहुत सारे उत्तर लिखें ताकि अच्छा अभ्यास हो और आपको परीक्षा के दिन समय की कमी जैसी किसी समस्या का सामना न करना पड़े !

इसके साथ ही, पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों की जाँच करें ताकि पता चल सके कि यूपीएससी ( UPSC Civil Services ) का परीक्षा पैटर्न कैसा है और किस तरह के प्रश्न आते हैं ! अंत में, बस इतना है कि सफलता पाने में समय लगता है, चिंता न करें क्योंकि इस परीक्षा की प्रकृति इस तरह है ! सही दिशा में सही रणनीति के साथ आगे बढ़ें, भले ही देर हो, लेकिन सफलता जरूर मिलेगी ! IAS ( Indian Administrative Service ) बनने के लिए खुद को स्व-प्रेरित रखें, क्योंकि कोई भी बाहरी प्रेरणा इतने सालों तक साथ नहीं देती है !

यह भी जानें : पान जलाकर खाने वाले का मुंह क्यों नहीं जलता है | यहां पढें GK In Hindi General Knowledge