IAS Sueccss Story Of Pujya Priyadarshini : बार बार असफताओं का सामना कर बनी आईएएस अधिकारी

IAS Sueccss Story Of Pujya Priyadarshini Indian Administrative Service बार बार असफताओं का सामना कर बनी आईएएस अधिकारी : पूज्य ने दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से बी.कॉम  किया है ! अपने ग्रेजुएशन के लास्ट साल 2013 में ही उन्होंने पहली बार यूपीएससी Union Public Service Commission की एग्जाम दी थी ! इस समय जिस स्तर की तैयारी की आवश्यकता थी ! वह पूज्य नहीं कर पायी थी ! इसके बाद उन्होंने कुछ सालो का गैप लिया और इस दौरान उन्होंने Masters in Public Administration from Columbia University New York से पूरा किया था !

IAS Sueccss Story Of Pujya Priyadarshini : बार बार असफताओं का सामना कर बनी आईएएस अधिकारी

IAS Sueccss Story Of Pujya Priyadarshini बार बार असफताओं का सामना कर बनी आईएएस अधिकारी
IAS Sueccss Story Of Pujya Priyadarshini बार बार असफताओं का सामना कर बनी आईएएस अधिकारी

इस प्रकार पूज्य की यूपीएससी की जर्नी काफी लंबी हो गयी है उन्होंने पहली बार एग्जाम दी 2013 में और उनका चयन चौथे बार के प्रायस में 2018 में हुआ था ! पूज्य ने यह तक पहुंचने के लिए काफी लंबा सफर तय किया है ! मास्टर्स के बाद पूज्य ने नौकरी करना शुरू कर दिया था ! अच्छी में उन्होंने  करीब ढाई साल तक काम किया है ! नौकरी के दौरान ही पूज्य में यूपीएससी की एग्जाम की तैयारी भी चल रही थी !

Pujya Priyadarshini ने साल 2013 के बाद में नेक्सट प्रयास लिया साल 2016 ने इस साल पूज्य ने सभी कठनाईयो को पर कर वे इन्टव्यू राउंड तक पहुंच गयी ! लेकिन इस साल उनका सफर यही खत्म हो गया था ! पूज्य वोटिंग लिस्ट तक ही आ पाई थी ! सफलता के इतने करीब आकर वापस जाना काफी कठिन होता है !

लेकिन पूज्य का कॉन्फिडेंस लेवल कम हो गया था ! सेल्फ डाउन होने लगती है  जो की इस एग्जाम के लिए बहुत ही बुरा है ! पूज्य के साथ भी ऐसा ही हुआ 2017 के प्रयास में पूज्य प्री – परीक्षा भी नहीं निकल पायी थी ! वे अब ऐ सोचने लगी थी की अब वे इस सिविल सर्विसेस का सपना त्याग देगी ! क्योकि इतने प्रयासो में इंसान का विश्वास डगमगा जाता है ! वे अब ऐ सोचता है की यह परीक्षा अब वे पास नहीं कर पायगे !

पूज्य ने चौथे प्रयास में अपना शिखर हासिल किया

पूज्य प्रियदर्शन ने साल 2018 में उन्होंने फिर प्रयास किया यह प्रयास उनका लास्ट प्रयास था ! लेकिन इस प्रयास में उन्होंने बाजिमारली और वे इस बार उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा 11 वीं  रैंक को हासिल किया है ! इस बार की परीक्षा उन्होंने काफी मेहनत करी थी ! वही यूपीएससी की परीक्षा को पास करने वाली आईएएस टॉपर पूज्य प्रियदर्शन लाइफ गोल्स को लेकर बहुत ही इमोशनल होने में बिलीव नहीं करती है ! वे अपने सपनो को भी प्रैक्टिकल ग्राउंड्स पर बनती है और वे हमेशा अपने लिए प्लान बी तैयार रखकर काम करने में यकीन करती है !

पूज्य ने यूपीएससी की परीक्षा पास करने का सपना हमेसा देखा था ! जो की उस सपने को उन्होंने सावित कर दिखाया था  वे कभी भी नहीं झुठलाती थी की यह परीक्षा में बेहद कठिन है ! इसमें जबरदस्त कंपीटिशन है ! इस बात को ध्यान में रखते हुये पूज्य ने हमेशा नौकरी के साथ ही उन्होंने यूपीएससी की तैयारी भी करी है ! हलाकि नौकरी के साथ उन्होंने परीक्षा की तैयारी करना काफी कठिन लगा था ! क्योकि उन्हें डबल मेहनत करनी पड़ती थी ! उन्होंने इस सफर कभी भी बिना प्लान के किये बगैर उतरने की कोशिश कभी नहीं की है ! इसमें पूज्य को समय की कमी का बहुत ज्यादा सामना करना पड़ता था !

IAS Sueccss Story Of Pujya Priyadarshini

पूज्य ने अपने तीसरे प्रयास के बाद वे काफी निराशा का सामना करना पड़ा था ! उनके परिवार वालो ने उन कभी भी हर नहीं मानने दी और उन्हें काफी हौसला दिया की तुम यह कर सकती हो ! तुम मैदान जाने का ख्याल अपने दिल से निकल दिया ! पूज्य के माता पिता दोनों सिविल सर्वेंट है ! पूज्य शायद इसी वजह से पूज्य हमेसा से इस क्षेत्र में जाना चाहती थी !अपने सपने को इतनी आसानी से नहीं छोड़ा पा रही थी ! लेकिन फिर Indian Administrative Service में कामयाबी हासिल की |

पूज्य अपने माता पिता के सहयोग से ही उन्होंने दोबारा हिम्मत जुटाई और इस बात पर फोकस किया की उनकी क्या गलतिया हो रही है ! पूज्य ने अपनी गलतियों को सुधारकर पूज्य ने फिर कोशिश की और उन्होंने इस बार केवल एक्जाम पास की बल्कि उन्होंने पुरे देश में 11 वीं रैंक के साथ उन्होंने टॉप किया था ! इसी प्रकार इंसान को अपने लक्ष्य कभी पीछा नहीं छुड़वा चहिये ! बल्कि उसे लड़ना चहिये ! ऐसा ही पूज्य ने किया है उन्होंने बिना नौकरी छोड़े Union Public Service Commission की परीक्षा को पास किया और वे आईएएस अधिकारी बन गई थी !

यह भी जानें :  दो बार मेन्स तक पहुंचकर भी असफल होने वाले अभिषेक शर्मा तीसरी बार बनें टॉपर