IAS Success Story : समोसे पर पूछे गए सवाल का जवाब देकर राजकमल यादव बने IAS अफसर, आर्मी का देखा था सपना

Success Story Of IAS Rajkamal Yadav समोसे पर पूछे गए सवाल का जवाब देकर राजकमल यादव बने IAS अफसर, आर्मी का देखा था सपना : कई बार ऐसा होता है कि आप सोचते कुछ हैं और हो कुछ और ही जाता है। जैसे यूपी के फिरोजाबाद के रहने वाले राजकमल यादव के सा थ हुआ। आज वो स्वास्थ्य विभाग की आयुष शाखा में तैनात विशेष सचिव IAS अफसर की कुर्सी पर कार्यरत हैं, लेकिन उनका सपना आर्मी ज्वाइन करना था। वक्त ने ऐसी फेर ली कि राजकमल यादव जो चाहते थे, उससे अलग ही दुनिया में पहुंच गए। एक इंटरव्यू के दौरान राजकमल यादव ने अपनी सफलता का सारा श्रेय अपने माता-पिता को देते हुए अपनी कहानी बताई, जो हम आपके साथ साझा करने जा रहे हैं।

समोसे पर पूछे गए सवाल का जवाब देकर राजकमल यादव बने IAS अफसर

Success Story Of IAS Rajkamal Yadav समोसे पर पूछे गए सवाल का जवाब देकर राजकमल यादव बने IAS अफसर

समोसे पर पूछे गए सवाल का जवाब देकर राजकमल यादव बने IAS अफसर

सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को देते हैं राजकमल

राजकमल यादव साल 2013 बैच के IAS अफसर हैं। इसके पहले यह विशेष सचिव सचिवालय प्रशासन विभाग में तैनात थे। राजकमल यादव अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को देते हुए कहना है कि पिता जी से ही उन्हें हमेशा प्रेरणा मिली जिसकी बदौलत वह आज IAS हैं। राजकमल यादव यूपी के फिरोजाबाद के रहने वाले हैं। उनका जन्म फिरोजाबाद जनपद के शिकोहाबाद में हुआ था। 6वीं क्लास तक की एजुकेशन गांव में ही हुई, जिसके बाद उन्होंने आगे की पढ़ाई के लिए लखनऊ के आर्मी स्कूल में एडमिशन लिया। इनके पिता कमल किशोर यादव ग्रामीण बैंक में जॉब करते थे।

Success Story Of IAS Rajkamal Yadav : आर्मी ज्वाइन करने का था सपना

इंटरव्यू के दौरान राजकमल बताते हैं कि आर्मी स्कूल में शुरू से ही देशभक्ति पर आधारित तमाम कल्चरल प्रोग्राम हुआ करते हैं। वहां का माहौल कुछ इस तरह का था कि मन में शुरू से ही आर्मी में जाने का सपना पाल लिया था। साथ ही राजकमल ने चेन्नई में वेटेरनरी साइंस से ग्रेजुएशन किया है। राजकमल बताते हैं कि जब वो UPSC का इंटरव्यू देने गए तो इंटरव्यू के दौरान उनसे पूछा गया कि आर्मी स्कूल में पढ़े हो तो आर्मी में क्यों नहीं गए। फिर उन्होंने जवाब दिया कि IAS और Army में से किसी एक को चुनने के लिए कहा जाए तो मैं आर्मी ही सिलेक्ट करेंगे। इस जवाब पर उन्होंने मेरी पीठ थप-थपाई और वो सिलेक्ट हो गए।

ग्रेजुएशन के दौरान ही शुरू कर दी थी IAS की तैयारी 

बता दें कि राजकमल दो भाइयों में सबसे बड़े हैं। इतना ही नहीं उनकी पत्नी ज्योत्स्ना भी PCS Officer हैं। राजकमल बताते हैं कि वो क्रिकेट के बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं। इसके अलावा उनको बॉडी बिल्डिंग का भी काफी शौक हैं। वह रोज सुबह घंटो जिम में पसीना बहाते हैं। राजकमल आगे बताते हैं कि उन्होंने ग्रेजुएशन के दौरान ही IAS की तैयारी शुरू कर दी थी। कॉलेज से आने के बाद वो घंटों पढ़ाई के साथ ही जीएस और सिविल सर्विस से रिलेटेड अन्य सब्जेक्ट्स पढ़ता करते थे। इतना ही नहीं उन्होंने प्रिपरेशन के लिए वो कभी किसी एक्सपर्ट या कोचिंग का सहारा नहीं लिया।

Success Story Of IAS Rajkamal Yadav : समोसे पर पूछे गए सवाल का जवाब देकर राजकमल बने IAS

राजकमल बताते हैं कि उन्होंने Veterinary Science से ग्रेजुएशन किया है। इसलिए UPSC के इंटरव्यू में उनसे बीमारियों के बारे में पूछा जा रहा था। सामने बैठे एक सर समोसा खा रहे थे। उनसे पूछा गया कि पेट संबंधी बीमारियों के कुछ रीजन बताइए। तो उन्होंने जवाब दिया कि जो समोसा आप खा रहे हैं। सबसे ज्यादा पेट की बीमारियां ऐसी ही चीजें खाने से होती हैं। इस पर सभी ठहाका मारकर हंसने लगे। फिर उन्होंने उनसे कहा कि क्या आप भी खाओ, तो राजकमल ने जवाब दिया कि वो बीमारियां नहीं खा सकते।

IAS Success Story : पिता करते थे सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी, बेटे ने IAS बन किया नाम रोशन

IAS Success Story : एक स्कूल हादसे नें चली गई थी आंखों की रोशनी, अब बनीं देश की पहली नेत्रहीन IAS अफसर