Chanakya Niti ऐसी स्त्री को कभी न दे अपने जीवन मे जगह, जानें कोन है

Chanakya Niti For Wife : आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति शास्त्र में मानव जीवन से लेकर वैवाहिक जीवन के बारे में काफी सारे बातें कही हैं ! आज की खबर में उनके द्वारा स्त्री के स्वभाव के बारे में कही गई बातों के बारे में जानकारी देंगे ! आइये जानते है वो कौन सी बातें है जिसे जानना बहुत जरूरी है !

Chanakya Niti For Wife

Chanakya Niti For Wife

Chanakya Niti For Wife

आचार्य चाणक्य ( Chanakya ) को भारत का विद्वान और कुशल कुटनीतिक माना जाता है ! उन्होंने मानव जीवन को लेकर बहुत सी बातें अपने नीति शास्त्र में बताई हैं ! उनकी बातों को ‘चाणक्य नीति’ नाम के शास्त्र में संकलित किया गया है. उनके बातों का अनुसरण कर कई महान लोगों ने जीवन में सफलता अर्जित की है ! आचार्य चाणक्य का कहना है कि अगर घर में सही स्त्री न हो तो जीवन नरक के समान हो जाता है ! इसके साथ ही पूरा परिवार भी बर्बाद हो जाता है ! आचार्य चाणक्य कहते है ऐसी स्त्री से हमेशा दूर ही रहना चाहिए !

ऐसी स्त्री जिसे कोई ज्ञान न हो

आचार्य चाणक्य ( Chanakya ) ने अपनी नीति शास्त्र में कहा है कि कुछ भी करने से पहले मनुष्य के लिए आवश्यक है कि उसे इस बात का ज्ञान हो कि वह कार्य करने योग्य है या नहीं ! मूर्ख शिष्य को उपदेश देना और व्यभिचारिणी स्त्री का पालन पोषण करने से व्यक्ति को काफी कष्ट उठाना पड़ सकता है.

कड़वे बोल

चाणक्य ( Chanakya ) नीति के अनुसार, कड़वे बोल बोलने वाली स्त्री, दुष्ट स्वभाव वाला मित्र सांप के समान होते हैं ! ऐसे लोगों से बचकर रहना चाहिए, वरनता जिंदगी मृत्यू के समान हो जाता है.

दृष्ट स्त्री

उनका कहना है कि जिस घर में दृष्ट स्त्रियां होती हैं, उस घर के मालिक की स्थिति मृतक के समान हो जाती है ! ऐसी स्त्री कभी सुधर नहीं सकती और उस पर किसी का वश नहीं चलता है ! चाणक्य ( Chanakya ) दुष्ट स्वभाव का मित्र भी विश्वास के योग्य नहीं होता, न जानें वह कब धोखा दे दे.

धन की बचत

चाणक्य ( Chanakya ) ने अपनी नीति में कहा है कि बुद्धिमान व्यक्ति को बुरे समय के लिए थोड़ा धन अवश्य बचाकर रखना चाहिए ! वहीं, समय पड़ने पर इस धन को खर्च कर अपनी पत्नी की रक्षा करनी चाहिए, क्योंकि मुश्किल समय में पत्नी ही काम आती है.

Chanakya Niti : पत्नी को भूलकर भी न बताएं ये राज, वरना शादीशुदा जिंदगी हो जाएगी बर्बाद

Chanakya Niti : कुशल लीडर बनने के लिए व्यक्ति में होने चाहिए ये 4 गुण