Public Provident Fund 2021 : विशेष जमा योजना पर दरें निर्धारित करें कि गैर-सरकारी पीएफ और ग्रेच्युटी फंड पर कितना ब्याज मिलेगा

Public Provident Fund 2021 : केंद्र सरकार ने विशेष जमा योजनाओं जैसे गैर-सरकारी भविष्य वाणियां (Future commerce) और ग्रेच्युटी फंड (Gratuity fund) की दरों में कोई बदलाव नहीं किया है !  केंद्र सरकार के निर्णय के अनुसार, इन फंडों पर 7.1 प्रतिशत की दर से ब्याज दिया जाएगा !  यह निर्णय इस वर्ष 1 जनवरी 2021 से लागू होगा और ये ब्याज दरें 31 मार्च 2021 तक प्रभावी रहेंगी ! 6 जनवरी 2021 को, आर्थिक मामलों का विभाग, जो वित्त मंत्रालय के अधिसूचना के तहत आया था, इससे संबंधित जारी किया गया था !  इससे पहले, जुलाई 2020 में जारी अधिसूचना में, इन फंडों की ब्याज दरें (Funds Interest Rates) 7.1 प्रतिशत निर्धारित की गई थीं !

Public Provident Fund 2021 : विशेष जमा योजना पर दरें निर्धारित करें कि गैर-सरकारी पीएफ और ग्रेच्युटी फंड पर कितना ब्याज मिलेगा

Public Provident Fund 2021
Public Provident Fund 2021

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees Provident Fund Organization) के पास अपने ग्राहकों के लिए करने के लिए एक बड़ी बात है और यह समय सीमा से पहले करना होगा ! अगर सभी चीजें योजना के अनुसार चलती हैं ! इससे उनके खातों में पैसे डालने पड़ते हैं ! विशेष रूप से, ईपीएफओ ब्याज दर (EPFO Interest Rate) क्रेडिट तिथि पहले से ही निर्धारित की गई है ! यह अब कभी भी हो सकता है ! हालांकि, आधिकारिक तौर पर, ब्याज को 1 जनवरी, 2021 से पहले कर्मचारी भविष्य निधि खातों (Employee Provident Fund Accounts) में जमा किया जाना है ! यह सब नहीं है!

ईपीएफओ (EPFO) को क्रेडिट करने की दर 2019-20 के लिए 8.5 प्रतिशत है और इसे देना होगा ! एक बार में पूरी राशि ! इस साल सितंबर में, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees Provident Fund Organization)  ने श्रम मंत्री संतोष गंगवार की अध्यक्षता में अपने ट्रस्टियों की बैठक में 8.5 प्रतिशत ब्याज को 8.15 प्रतिशत और 0.35 प्रतिशत की दो किस्तों में विभाजित करने का फैसला किया था ! लेकिन यह खत्म कर दिया गया है ! ईपीएफओ ब्याज दर (EPFO Interest Rate) क्रेडिट का भुगतान लगभग छह करोड़ ग्राहकों के खातों में किया जाएगा !

जीपीएफ में भी 7.1 प्रतिशत ब्याज मिलेगा (Public Provident Fund 2021 )

केंद्र सरकार ने सामान्य भविष्य निधि (Public Provident Fund) जीपीएफ की ब्याज दरों (GPF Interest Rates) को जनवरी-मार्च तिमाही के लिए 7.1 प्रतिशत निर्धारित किया है !  ये दरें 1 जनवरी 2021 से प्रभावी होंगी ! आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार, सामान्य भविष्य निधि (Public Provident Fund) और अन्य समान धनराशि के ग्राहकों के खातों में जमा राशि पर 7.1% ब्याज दिया जाएगा !  यह ब्याज दर 1 जनवरी 2021 से 31 मार्च 2021 तक की अवधि के लिए तय की गई है !

केंद्र सरकार के निर्णय के अनुसार, यह ब्याज सामान्य भविष्य निधि (Public Provident Fund) सेंट्रल सर्विसेज (Central Services) अंशदायी भविष्य निधि (Contributory Provident Fund), अखिल भारतीय सेवा भविष्य निधि, (All india service provident fund) राजकीय रेलवे भविष्य निधि (State railway provident fund) , सामान्य भविष्य निधि (public provident Fund), भारतीय आयुध डिपार्टमेंट प्रोविडेंट (Indian Ordnance Department Provident) है ! फंड, भारतीय आयुध फैक्ट्रीज वर्कर्स प्रॉविडेंट फंड (Indian Ordnance Factories Workers Provident Fund), इंडियन नेवल डॉकयार्ड वर्कमैन प्रोविडेंट फंड (Indian Naval Dockyard Workman Provident Fund), डिफेंस सर्विसेज ऑफिसर्स प्रोविडेंट फंड (डिफेंस सर्विसेज ऑफिसर्स प्रोविडेंट फंड ) और सशस्त्र बल पर्सनल प्रॉविडेंट फंड के लिए लागू होगा !

ईपीएफ खाते की शेष राशि की ऑनलाइन जांच कैसे करें:

चरण 1 epfindia.gov.in पर लॉग ऑन करें !
चरण 2 अपना यूएएन नंबर टाइप करें
3. अपने पासवर्ड में टाइप करें
चरण 4. अंत में, कैप्चा कोड में टाइप
करें चरण 1 ई पर क्लिक करें ! -पासबुक
एक नया पेज खुलेगा और आपको उस सदस्य आईडी को देखना होगा जहां आपका ईपीएफ खाता (EPF Account) शेष प्रदर्शित होगा !

यह योजना 1975 में शुरू की गई थी

गैर-सरकारी भविष्य निधि, ग्रेच्युटी (Provident fund, gratuity) और सुपरनेशन फंड पर बेहतर रिटर्न प्रदान करने के लिए 1 जुलाई 1975 को विशेष जमा योजना (एसडीएस)(SDS) शुरू की गई थी !  प्रारंभ में इसे केवल 10 वर्षों के लिए लाया गया था, लेकिन इसे फिर से बढ़ाकर 1998 कर दिया गया ! केंद्र सरकार एसडीएस (SDS) में निवेश किए गए धन पर ब्याज का भुगतान करती है !  इसके अलावा, यह सरकारी प्रतिभूतियों और म्यूचुअल फंड में निवेश (Mutual fund investment) किया जाता है  !  जब इसे लॉन्च किया गया था, तो इस पर 10 प्रतिशत का ब्याज दिया गया था !  1 अप्रैल 1986 के बाद, इसे लगभग 15 वर्षों के लिए 12 प्रतिशत ब्याज मिला !  2018 की जनवरी से मार्च तिमाही में, ब्याज दर है !

यह भी जानें : IDFC Bank Savings Account : आईडीएफसी फर्स्ट बैंक को दूसरे बैंकों से दोगुना ब्याज मिलता है

Punjab National Bank (PNB) Internet Banking : पीएनबी इंटरनेट बैंकिंग के लिए पंजीकरण कैसे करें

Advertisement