ज्यादातर ट्रैक्टरों में पेट्रोल के इंजन की जगह डीजल का इंजन क्यों लगाया जाता है | यहां पढ़ें GK In Hindi General Knowledge

GK In Hindi General Knowledge ज्यादातर ट्रैक्टरों में पेट्रोल के इंजन की जगह डीजल का इंजन क्यों लगाया जाता है : अगर देखा जाए तो सारे हेवी यानी भारी वाहनों का ईंधन है डीजल ! जैसे – ट्रैक्टर, डोज़र, डम्पर, लॉरी, ट्रक, ट्रेलर, क्रेन में कुछ होता है ! आज हम आपको अपने इस पोस्ट में ट्रैक्टरों में पेट्रोल के इंजन की जगह डीजल का इंजन क्यों लगाया जाता है !

ज्यादातर ट्रैक्टरों में पेट्रोल के इंजन की जगह डीजल का इंजन क्यों लगाया जाता है | यहां पढ़ें GK In Hindi General Knowledge

"General

इस बारे में कुछ खास बातें करने जा रहे हैं, जो आपके काम आ सकती है ! ज्यादातर लोगों को इस बारे में कुछ ज्यादा नहीं जनाते हैं और ऐसी ही जानकारी के लिए हम आप लोगों के साथ जुड़े रहते हैं !

पेट्रोल और डीजल इंजन के विकल्प | GK In Hindi

1). इन सबको चलाते समय हम भारी वस्तुएं इनकी मदद से उठाते हैं !

2). ट्रक या ट्रैक्टर आपको 80 से 120 की गति में चलाने की जरूरत नहीं ! आपका उद्देश्य है सामान्य गति पर ज्यादा भार ट्रान्सपोर्ट करना !

3). इसलिए हमे ऐसा ईंधन और इंजन चाहिए जिसे बहुत तेज भगाना नहीं पर उसकी भारोत्तोलन क्षमता ज्यादा होनी चाहिए ! अब आपके पास विकल्प हैं – पेट्रोल और डीजल इंजन !

अब पावर का फार्मूला देखते हैं | General Knowledge

P = τ * θ ; P= power, τ =टॉर्क, θ= आर पी एम

पी मतलब पावर, टाउ मतलब टॉर्क ( कितने फोर्स से इंजिन क्रैन्कशाफ्ट को घुमाता है ) ! थीटा मतलब क्रैन्कशाफ्ट एक मिनट मे कितनी बार घूमता है !

कुछ और पॉइंट्स | GK In Hindi

1). अब 1 लीटर डीजल का दहन 1 लीटर पेट्रोल के दहन से ज्यााद ऊर्जा देता है, तो एफिशिएन्सी या फलोत्पादकता ज्यााग है ! ये एक मूल कारण है डीजल इंजिन चुनने का !
2). डीजल इंजिन की संरचना भी ऐसी होती है कि इसमें टॉर्क ज्यादा होता है और आर पी एम कम, जो एक भार वहन करने वाले वाहन की जरूरत है !
3). टॉर्क भार उठाने की क्षमता का सीधे अनुपातिक है !
4). आर पी एम गति का सीधे अनुपातिक है, लेकिन हमें तो ज्यााद भार वहन करने वाला इंजन चाहिए ! इसलिए हम डीजल चुनेंगे ! GK In Hindi General Knowledge.

यह भी पढ़ें:- स्पीकर में मैग्नेट क्यों लगाया जाता है | यहां पढ़ें GK In Hindi General Knowledge
‘@’ सिंबल किसने बनाया था| यहां पढ़ें GK In Hindi General Knowledge
आजकल ट्रायल रूम में लोग कैमरा छुपा कर रखते है उसका पता कैसे लगाया जा सकता है | यहां पढ़ें GK In Hindi
Advertisement