पृथ्वी पर जीवन की उत्पत्ति कैसे हुई | GK In Hindi General Knowledge

GK In Hindi General Knowledge पृथ्वी पर जीवन की उत्पत्ति कैसे हुई : हमसे जब भी कोई धरती के सृजन के बारे में सवाल पूछे जाते हैं तो बेहद कम लोग इसका जवाब दे पाते हैं कि आखिरकार धरती पर जीवन आया कैसे ! कैसे लोग और जानवरों का जन्म हुआ ! इस एक सावल पर काफी शोध भी किए गए !, जिसमें कुछ इस तरह की बातें सामने आईं ! पृथ्वी पर जीवन के अस्तित्व को लेकर वैज्ञानिकों ने अपनी कई तरह की अवधारणाएं बताई हैं !

पृथ्वी पर जीवन की उत्पत्ति कैसे हुई | GK In Hindi General Knowledge

General Knowledge पृथ्वी पर जीवन की उत्पत्ति कैसे हुई
General Knowledge पृथ्वी पर जीवन की उत्पत्ति कैसे हुई

इसके अलावा भारतीय मूल के वैज्ञानिकों की तरफ से भी इसको लेकर अध्यन किया गया था जिसमें बताया गया है कि पृथ्वी पर जीवन के लिए जरूरी Carbon, nitrogen और कई और तरह के तत्व ग्रहों के टकराने की उस घटना के बाद हुई, जिसके चलते करीब 4.4 अरब साल पहले चंद्रमा की उत्पत्ति हुई थी ! Science advances जर्नल में प्रकाशित शोध अमेरिका की Rice University के शोधकर्ताओं ने किया है !

कुछ ऐसा कहना है शोधकर्ताओं का | GK in Hindi

वहीं इस शोध के Co-authors और राइस यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता राजदीप दासगुप्ता ने बताया कि प्राचीन काल में उल्कापिंडों के अध्ययन के आधार पर वैज्ञानिकों को लंबे समय से यह पता था कि पृथ्वी और सौर मंडल की आंतरिक कक्षाओं में स्थित चट्टानों वाले कई ग्रहों में विघटन होकर तत्व निकलते रहते हैं, लेकिन इसके समय और प्रणाली पर बहस चलती रही ! साथ ही उन्होंने बताया कि हमारी खोज पहली है, जो सभी Geochemical proofs के अनुरूप समय की व्याख्या कर सकती है !

यूनिवर्सिटी के स्नातक के छात्र दमनवीर ग्रेवाल ने कई Experimentsमकी कड़ी में लंबे समय से माने जा रहे इस सिद्धांत के परीक्षण के लिए साक्ष्य जुटाए कि पृथ्वी पर जीवन के लिए जिम्मेदार तत्व एक ग्रह के साथ टक्कर के बाद पैदा हुए थे ! वो आगे बताते गैं कि पृथ्वी पर Carbon nitrogen का अनुपात और कार्बन, नाइट्रोजन और Sulphur की पूरी मात्रा चंद्रमा की उत्पत्ति के संगत है !

नाइट्रोजन कारक (Nitrogen factor) | General Knowledge

1). कई शोधों के बाद सामने आई बातों की माने तो वैज्ञानिकों ने इस बात का अनुमान लगाया है कि पृथ्वी पर जीवन की उत्पत्ति के लिए निश्चित रूप से nitrogen की जरूरत होती है !

2). कई तरीकों से Nitrogen atmosphere से होते हुए समुद्र, तालाब और कई तरह के जल में रहने वालें जमा हुआ होगा !

3). Earth’s atmosphere में लगभग 78 % Nitrogen पाया जाता है !

4). Atmospheric nitrogen में दो नाइट्रोजन अणु (N2) शामिल होते हैं, जो एक मजबूत ट्रिपल बांड (N≡N) के जरिए जुड़े होते हैं ! यह मजबूत ट्रिपल बांड आकाश में बिजली के चमकने और गरजने से ही टूटते हैं !

5). साथ ही वैज्ञानिकों का मानना है कि शुरुआती दौर में वायुमंडल में आकाशीय बिजली की पर्याप्त घटनाएं होती रही होंगी, ताकि Nitrogen oxides पर्याप्त मात्रा में उत्पन्न हो सकें और पृथ्वी पर जीवन की शुरुआत हो सके !

6). इसके अलावा शोध के नए अध्ययन की माने तो सूरज की रोशनी और पूरानी महासागरीय चट्टानों से घुलित लोहे की वजह से समुद्र में पहुंचने वाले Nitrogen oxides का ज्यादातर हिस्सा खत्म हो जाता है और यह Nitrogen के रूप में वायुमंडल में पहुंच जाता है और आखिर इसी के चलते समुद्र में Nitrogen oxides बहुत ही कम रह गए होंगे !

7). उथले तालाब में जीवन की उत्पत्ति हेतु बेहतर विकल्प रहे होंगे, क्योंकि तालाबों का आकार बहुत छोटा होता है जहां जीवन के लिए जरूर Nitrogen oxides की सांद्रता ज्यादा रही होगी !

8). इस तकह जीवन की उत्पत्ति महासागर में होना कठिन है लेकिन तालाब इसके लिए उपयुक्त हैं !

कुछ और शोध की बातें | General Knowledge

1). इसके अलावा पृथ्वी की उत्पत्ति का आखिरी चरण जीवन के विकास से संबंधित है !
2). पृथ्वी की शुरूआत वायुमंडल जीवन के विकास के लिए अनुकूल नहीं था !
3). Modern scientist जीवन की उत्पत्ति को एक तरह की Chemical process बताते हैं इसमें पहले जैव कार्बनिक अणु बने फिर इनका समूह बना, यह प्रक्रिया लगातार चलती रही और आखिर में यह निर्जीव पदार्थ जीवित तत्त्वों में परिवर्तित हुआ !
4). पृथ्वी पर जीवन के प्रमाण अलग अलग समय में जीवाश्मों के अवशेष के रूप में मिले हुए हैं !
5). GK In Hindi General Knowledge साथ ही वैज्ञानिकों द्वारा ऐसा माना जाता है कि शायद सबसे पहले शैवाल की उत्पत्ति हुई रही होगी !

यह भी पढ़ें:- बैडरूम में अपने साथ कुत्ते को सुलाने से पहले हमें कौन सी बातें जान लेनी चाहिए | GK In Hindi General Knowledge
Advertisement