खटमल के बारे में आप क्या-क्या जानते हैं | जानें आवश्यक जानकारी GK In Hindi General Knowledge

GK In Hindi General Knowledge खटमल के बारे में आप क्या-क्या जानते हैं : खटमल, जिसको अंग्रेजी में bedbugs कहा जाता है ! ये ऐसे किटक हैं जिसका सामना हमें कभी ना कभी करना ही पड़ता है ! ये ज्यादा तर बिस्तर में ही पाए जाते हैं ! इसलिए इसका नाम खटमल है ! इस किट की खास बात यह है कि इसको ख्याल आते ही आपकी नींद तक उड़ सकती है ! खटमल की दो प्रजातियां होती हैं ! एक वो जो इंसान या सस्तनधारी प्राणियों का खुन चुस कर अपना पेट भरती हैं !

खटमल के बारे में आप क्या-क्या जानते हैं | GK In Hindi General Knowledge

General Knowledge खटमल के बारे में आप क्या-क्या जानते हैं
General Knowledge खटमल के बारे में आप क्या-क्या जानते हैं

वे वैज्ञानिक रूप से सिमेक्स लेक्टुलरियस (Cimax lectularius) और सिमेक्स हेमिप्टेरस (Cimex hemipterous) के नामसे जाने जाते हैं ! वे 3500 साल पहले से मिस्र के कब्रों में पाए जाते थे और अब भी वहां मिल ही जाएंगे ! इसके अलावा घरों में सोफा, बिस्तर गद्दे, कपड़े और अन्य नरम सामानों में ये अपना घर बसाना पसंद करते हैं ! ये जीव ज्यादातर अंधेरे में रहना पसंद करते हैं ! ये छोटे, सपाट, परजीवी किटक हैं जो पूरी तरह से लोगों और जानवरों के खुन पर ही निर्भर होते हैं !

बड़े-बड़े देशों में भी लोगों की नींद उड़ाते हैं खटमल  | GK In Hindi

खटमल लाल-भूरे रंग के, पंखों वाले, 1 मिमी से 4 मिमी तक लंबे होते हैं और बिना खुन के खाना के कई महीनों तक रह सकते हैं ! चौकाने वाली बात तो ये है कि खटमल केवल भारत में ही नहीं बल्कि उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका से अफ्रीका, एशिया और यूरोप तक दुनिया भर में पाए जाते हैं, लेकिन अपने देश जैसे कई विकासशील देशों में खटमल के पाए जाने को खास तौप पर एर बड़ी समस्या के रूप में देखा जाता है ! अब संयुक्त राज्य अमेरिका, कनाडा, यूनाइटेड किंगडम और यूरोप के कई राज्यों में भी इनका प्रकोप तेजी से फैलता जा रहा है !

3 से 10 मिनट तक खून पीकर अपना पेट भर लेते हैं खटमल

यहां भी हॉटेल, बस, रेल कोच और रिसॉर्ट्स में खटमल पाए जाते हैं ! वैसे तो खटमल के काटन से कोई बीमारी नहीं होती, लेकिन वो उपद्रवी होते हैं जो लोगों की नींद भंग करने के लिए ज्यादा जाने जाते हैं ! उनके मुंह के पास एक लंबी पैनी चोंच होती है जो काफी शार्प पाइप की तरह होती है, जो हमारे त्वचा को छेदने में उनकी मदद करती हैं, जिसके सहारे वो इंसानों का खून चूसते हैं ! वो जब हमारे शरीर से खुन पीता है तो हमें दर्द का एहसास नहीं होता जिसके चलते वो 3 से 10 मिनट तक खून पीकर अपना पेट भर लेते हैं !

खटमल के काटने पर रैशेज जैसी समस्या हो जाती है | General Knowledge

खटमल पेट भर खुन पीने के तुरंत बाद अपने खाने को पचाने के लिए एकांत स्थान पर रेंगते हैं ! इन जीवों द्वारा काटे जाने के लक्षण इंसान से दूसरे इंसान में अलग होते हैं ! बहुत से लोगों को उनके काटने से खुजली के लाल दाने जैसे धब्बे हो जाते हैं, जो बाद में रैशेज बन जाते हैं, तो कोई में लोगों को कुछ महसूस ही नहीं होता ! कभी-कभी प्रतिक्रिया में दिन या हफ्ते भर देरी हो जाती है, जिससे यह पकड़ पाना मुश्किल हो जाता है कि असल में खटमल ने कहां और कब काटा !

खटमलों से बचने के लिए अपनी चीजों को साप सुथरा रखें

GK In Hindi General Knowledge वैसे तो खटमलों से बचके रहना चाहिए ! यही सबसे अच्छा विकल्प हैं ! इसलिए अपने घरों, बिस्तरों, अपने दफ्तर या कोई जगह जिसका आप उपयोग ज्यादा करते हैं उसको हमेशा ही साफ सुथरा रखना चाहिए ! अगर खटमल मिले तो वो बिस्तर या सभी तरह की दूसरी चीजों तो धूप में रख देना चाहिए ! साबू का गर्म पानी से भी खटमल मरते हैं ! इसके अलावा हो सके तो रासायनिक द्र्व्यों के कीटनाशक इस्तमाल नहीं करे तो अच्छा हैं, क्योंकि वो आपको भी नुकसान पहुंचा सकते हैं !

यह भी पढ़ें:- TIME पत्रिका द्वारा 2020 में प्रकाशित 100 सबसे प्रभावशाली व्यक्ति में किन किन भारतीयों के नाम आये हैं | यहां जानें GK In Hindi General Knowledge
Advertisement