बिजली के करंट का झटका लगने पर पहले करें ये काम | यहां जानें GK In Hindi General Knowledge

GK In Hindi General Knowledge बिजली के करंट का झटका लगने पर पहले करें ये काम : बिजली का झटका एक ऐसा झटका है जो किसी भी को हिला कर रख दे ! करंट लगने पर पूरे शरीर की नसें जैसे फटने सी लगती है ! कभी-कभी ऐसा होता है कि आपकी घर की बिजली खराब हो जाए तो उसको ठीक कराने के आर किसी बिजली वाले को ठीक करने के लिए बुला ही लेते ही या कभी आप घर पर कोई बिजली का कम रहे हैं जैसे कपड़ो पर परैस करना और भी कई भी बिजली से जुड़े काम होते हैं ! इस दौरान किसी कोई गलती से अगर करंट लग ही जाता है !

बिजली के करंट का झटका लगने पर पहले करें ये काम | यहां जानें GK In Hindi General Knowledge

General Knowledge बिजली के करंट का झटका लगने पर पहले करें ये काम
General Knowledge बिजली के करंट का झटका लगने पर पहले करें ये काम

अगर आपके सामने ऐसा कुछ होता है तो आप क्या करेंगे और अगर उसकी मौत हो जाती हैं तो उसके घर वाले किस के सहारे रहेंगे ! हम इन बातों को बेहद अंदेखा करते हैं, जो कि नहीं करना चाहिए ! आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में इसी के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जा कभी न कभी आपके काम आ सकती हैं ! एक कहावत आप लोगों ने भी सुनी होगी कि सावधानी हटी , दुर्घटना घटी, क्योंकि आम तौर पर होने वाले सभी हादसे सावधानी न रखने के कारण ही होते हैं ! जैसे कि किसी काम के दौरान अचानक से बिजली का झटका लग जाना !

करंट कभी भी किसी को भी लग सकता है | GK IN HINDI

बाकी कामों के अलावा बिजली का झटका लोगों को कुछ काम करने के दौरान नंगी तार छूने या नंगें पैर बिजली का काम करने से भी लग सकता है ! करंट लगाना सुनने में जितना सामान्य लगता है लेकिन ये उससे भी कई ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है, लेकिन कई बार शौक लगने से हृदय की गति पर भी इसका काभी प्रभाव पड़ता है और ऐसे में इंसान बेहोश भी हो जाता है ! इसके अलावा कई बार बिजली का झटका इतना जोर से भी लगता सकता है कि इंसान की जान भी जा सकती है ! इस स्थिति में लापरवाही बरतने से इंसान की जान पर बन सकती है !

डॉक्टरी इलाज करवाने से पहले खुद उसकी करें मदद General Knowledge

इसीलिए बिजली का करंट लगने पर तुरंत डॉक्टरी इलाज की सलाह दी जाती है, लेकिन डॉक्टर के मरीज तक पहुंचने और उसे ले जाने में थोड़ा समय लगता है ! इस बीच में हमरा पहला काम ये बनता है कि हम उनकी मदद करें, क्योंकि कई बार झटका लगते समय धीरे लगता है लेकिन ज्यादा समय तक उसका इलाज न होने के चलते वह दिल को भी प्रभावित करने लगता है ! ऐसे में पहला इलाज ही बेहतर उपाय होता है, लेकिन सभी को बिजली का झटका लगने के इलाजों के बारे में नहीं पता होता ! इसीलिए आज हम आपको बिजली का झटका लगने पर क्या करें, इस बारे में बताने जा रहे हैं !

बिजली का झटका लगने पर क्या करें | General Knowledge

1). अगर आपके सामने किसी इंसान को करंट लग जाए तो मदद के लिए पीड़ित के पास जाने से पहले आप ये सुनिश्चित कर लें कि उसके आस-पास कोई करंट वाली चीज न पड़ी हो ! साथ ही ध्यान रहे कि पानी और लोहा की चीजों में करंट बहुत जल्दी पास होता है ! अगर ऐसी कोई चीज आपके आस-पास है तो उसे किसी लकड़ी की मदद से हटा दें !

2). पीड़ित इंसान को करंट लगनी वाली चीज से दूर करने की कोशिश करें ! इसके लिए सबसे पहले आप अपने आस-पास के लिए स्विच ऑफ कर दें, क्योंकि स्विच ऑन रहने से आपको भी करेंट लग सकता है ! इंसान को भूलकर भी छुएं नहीं ये आपके लिए भी नुकसानदायक हो सकता है !

3). बिजली से अलग करने के बाद इंसान को रिकवरी पोजीशन में लेटा दें ! इस पोजीशन में इंसान किसी एक करवट में होता है और उसका एक हाथ सिर के नीचे और दूसरा हाथ आगे की तरफ होता है ! उसका एक पैर सीधा और दूसरा मुड़ा हुआ होता है ! इसके बाद उसकी ठोड़ी उठाकर जांच करें कि वो सांस ले रहा है या नहीं !

4). अगर इंसान सांस नहीं ले रहा है और उसके थोड़ी चोट आई है तो उस चोट को पानी से धो दें !

5). अगर जलने वाली जगह से ब्लीडिंग हो रही है तो उस जगह को किसी साफ और सूखे कपडे से बांध दें !

6). अगर इंसान किसी भी तरह की कोई गतिविधि जैसे सांस लेना, खांसना नहीं कर रहा है तो आप सीपीआर (Cardio Pulmonary Resuscitation) शुरू करें ! इस पहले उपचार से किसी बेहोश इंसान के दिल और फेफड़ो को फिर से होश में लाया जाता है !

पहले उसका उपचार करें फिर मेडिकल ट्रीटमेंट दें

GK In Hindi General Knowledge बता दें कि इन सभी इलाजों के अलावा आप एक और बात को ध्यान में रखें कि बिजली का झटका लगने वाले इंसान को मेडिकल ट्रीटमेंट की जरूरत होती है ! भले ही घटना के बाद वह पूरी तरह ठीक लग रहा हो, क्योंकि हो सकता है झटके का असर अब तक तंत्रिका प्रणाली में हो और वो बाद में प्रभाव दिखाए !

यह भी पढ़ें:- फेवीक्विक अगर आंख में चला जाए तो क्या करना चाहिए | यहां जानें GK In Hindi General Knowledge
Advertisement