बिच्छू अपनी मां को क्यों खा जाता है | यहां जानें GK In Hindi

GK In Hindi General Knowledge बिच्छू अपनी मां को क्यों खा जाता है : दुनिया में कई ऐसे जीव हैं जिनको देखते ही इंसान के डर की सीमा खत्म हो जाती है। खास कर वो जीव जो धरती पर रंगते हैं और कभी आकार में बड़े तो कभी छोटे होते हैं। जैसे- सांप या बिच्छू। इन दोनों ही जीवों में भारी मात्रा में जहर होता है, लेकिन ऐसा भी माना जाता है कि जब तक इनको कोई परेशान न करे ये किसी को कुछ नहीं करते, फिर भी इस जीव से दूर ही रहा जाए तो अच्छा है।

बिच्छू अपनी मां को क्यों खा जाता है | General Knowledge

बिच्छू अपनी मां को क्यों खा जाता है

बिच्छू अपनी मां को क्यों खा जाता है

हमने आपको सांपों के बारे में कई दिलचस्प दानकारियां दी हैं। आज हम बात करें बिच्छू की। जी हां, ये जीव भी किसी खतरे से कम नहीं है, जितना छोटा है उतना ही खतरनाक और जहरिला होता है बिच्छू। वैसे तो ये किसी को कुछ कहते नहीं लेकिन अगर एक बार डंक मार ले तो जान तक जा सकती है। ऐसा माना जाता है कि कई बिच्छू के डंक से निकले जहर में इंसान को पैरालाइज करने तक की क्षमता होती है। इतना ही नहीं माना जाता है कि बिच्छू के जहर से कई प्रकार की दावाइयां भी बनाई जाती हैं।

General Knowledge Why does a scorpion eat its mother

वैसे ज्यादा तर बिच्छू ईट या पत्थर के नीचे अपना डेरा बनाते हैं। ये काले, मिट्टी रंग या डार्क भूरे और ब्राउन रंग के होते हैं। बिच्छू का शरीर लंबा संकरा और दो भागों शिरोवक्ष और उदर में बटा होता है। क्या आप जानते हैं कि बिच्छू की लगभग 2000 जातियां पाई जाती हैं, जो अगल-अलग देशों में पाई जाती हैं। वैसे तो बिच्छू को 20०C से 37०C तापमान के बीच रहना पसंद होता है, लेकिन ये बेहद जमा देने वाले ठंड और जला देने वाली गर्मी को भी सहन कर सकते हैं।

मादा बिच्छू एक साथ 100 बच्चों को देती है जन्म : GK in Hindi 

आमतौर पर बिच्छू छोटे कीड़ों का शिकार करते हैं। बिच्छू अपने शिकार के शरीर में अपना जहर छोड़ देते हैं और जिससे शिकार पैरालाइज हो जाता है और फिर ये उसे जिंदा ही खा लेते हैं। इसके अलावा मादा बिच्छू एक साथ 100 बच्चों को जन्म देती हैं जो उसकी को खा लेते हैं। जी हां, जैसे ही मादा बिच्छू के बच्चे होते हैं उनको अपनी पीठ पर बैठा कर किसी सुरक्षित जगह ले जाती हैं और तब तक उसके बच्चे उसकी पीठ को खा-खा कर खोखला कर देते हैं।

Advertising
Advertising

मादा बिच्छू के मरने तक बच्चे नौचते रहते हैं उसका जिस्म

GK In Hindi General Knowledge ऐसा कहा जाता है कि बिच्छू के बच्चे पैदा होते ही अपनी मां की पीठ पर चिपक जाते है और उसका जिस्म ही उनका आहार बन जाता है। बिच्छू के बच्चे तब तक अपनी मां की पीठ से चिपके रहते है जब तक मादा बिच्छु मर नहीं जाती। उसके जिस्म का सारा मांस जब खत्म हो जाता है और मादा बिच्छू मर जाती है, तब उसके बच्चे उसकी पीठ से उतर जाते है और स्वतंत्र होकर जीते है और यही सब होता रहता है। किसी ने सच ही कहा कि इस दुनिया में बहुत सी ऐसी बातें हैं जिनको दम समझ नहीं पाते कि ऐसा क्यों होता है।

हिन्दू धर्म में शव को जलाया क्यों जाता है | यहां जानें General Knowledge GK In Hindi

>