मध्यप्रदेश में हुई “एफआईआर-आपके द्वार” योजना शुरु

Advertisement

हाल ही में Madhya Pradesh Police की तरफ से एक योजना की शुरूआत की गई है और वो है घर बैठे प्राथमिकी दर्ज करवाने की। जी हां, मध्यप्रदेश पुलिस ने एफआईआर-आपके द्वार योजना की शुरुआत की है। इसके तहत शिकायतकर्ता घर बैठे ही अपनी शिकायत दर्ज करवा पाएगा और शिकायत प्राप्त होते ही पुलिस की डायल-100 टीम शिकायतकर्ता के घर जाकर उसकी प्राथमिकी दर्ज कर लेगी। जानकारी के लिए बता दें कि एफआईआर-आपके द्वार योजना को फिलहाल 11 मंडल मुख्यालयों के 23 पुलिस स्टेशनों में पायलट परियोजना के तौर पर शुरू किया गया है।

Advertisement

मध्यप्रदेश में हुई “एफआईआर-आपके द्वार” योजना शुरु

मध्यप्रदेश में हुई "एफआईआर-आपके द्वार" योजना की शुरु
मध्यप्रदेश में हुई “एफआईआर-आपके द्वार” योजना शुरु

इसके तहत एक शहरी और एक ग्रामीण पुलिस स्टेशन शामिल हैं। इस योजना के लिए डायल 100 वाहन ने एफआईआर दर्ज करने के लिए हेड कांस्टेबलों को प्रशिक्षित किया जाएगा। वहीं राज्य सरकार का कहना है कि मध्यप्रदेश इस प्रकार की योजना को लागू करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। इस योजना के बारे में बात करते हुए मध्यप्रदेश के गृह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि यह योजना 11 संभागीय मुख्यालयों के एक शहरी थाना और एक ग्रामीण थाने और गैर संभागीय मुख्यालय दतिया के एक शहरी थाना सहित पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में 23 थानों में सोमवार से प्रारंभ की गई है।

Advertisement

बता दें कि इस योजना के जरिए सामान्य शिकायतों के लिए एफआईआर मौके पर ही दर्ज की जाएगी, जबकि गंभीर शिकायतों के मामले में वरिष्ठ अधिकारियों से परामर्श मांगा जाएगा। इसके अलावा राज्य सरकार ने इस अवसर पर एम्बुलेंस, पुलिस और अग्निशमन सेवाओं की तत्काल उपलब्धता की सुविधा के लिए हेल्पलाइन डायल 112 भी शुरू की गई है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here