Minister Pradyuman Singh Tomar said – electricity prices will increase : मध्य प्रदेश वासियों को लगेगा एक और झटका, ऊर्जा मंत्री ने दिए बिजली के बिल बढ़ने के संकेत

Madhya Pradesh : मध्यप्रदेश में महंगाई जल्दी ही बढ़ने वाली है। प्रदेश में बिजली की कीमतों (electricity bill) में बढ़ोतरी के आसार नजर आ रहे हैं। ‌ ऐसा नहीं है कि बिजली की दरों में बढ़ोतरी की बात कोई अफवाह है, इस बात का संकेत खुद प्रदेश के उर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Minister Pradyuman Singh Tomar said – electricity prices will increase) ने दिया है। ‌दरअसल प्रदेश के उर्जा मंत्री (Pradyumna Singh Tomar) ने इस बात का संकेत दिया है कि इंदौर (Indore) में यदि बिजली का खर्चा पड़ता है तो बिजली की दरों में भी बढ़ोतरी की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि हम कोशिश कर रहे हैं लोगों को कम खर्चे में सस्ती बिजली उपलब्ध कराई जा सके। ‌

Minister Pradyuman Singh Tomar said – electricity prices will increase : मध्य प्रदेश वासियों को लगेगा एक और झटका, ऊर्जा मंत्री ने दिए बिजली के बिल बढ़ने के संकेत

Minister Pradyuman Singh Tomar said - electricity prices will increase : मध्य प्रदेश वासियों को लगेगा एक और झटका, ऊर्जा मंत्री ने दिए बिजली के बिल बढ़ने के संकेत

मध्यप्रदेश में देंगे दिल्ली से सस्ती बिजली

मध्य प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर Pradyumna Singh Tomar) ने एक ओर जहां इंदौर (Indore) शहर में बिजली के दामों में बढ़ोतरी के संकेत (Minister Pradyuman Singh Tomar said – electricity prices will increase) भी है तो वहीं दूसरी तरफ उन्होंने प्रदेश में दिल्ली (Delhi) से सस्ती बिजली उपलब्ध कराने की बात कही है। दरअसल, प्रदेश के मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर इंदौर पहुंचे थे और मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने बिजली के बिलों (electricity bill) को बढ़ाने को लेकर कहा कि यदि खर्चे बढ़ते हैं तो बिजली के दाम में भी बढ़ोतरी होगी। ‌ उन्होंने यह भी कहा कि फिलहाल उन्हें बिजली बिल बढ़ाने को लेकर किसी भी प्रस्ताव की जानकारी नहीं है।

आयकर दाताओं को ₹100 सौ यूनिट बिजली से किया बाहर

जानकारी के लिए बता दें कि मध्यप्रदेश में अब आयकर दाताओं income tax payers) को ₹100 में 100 यूनिट बिजली योजना से बाहर कर दिया गया है। योजना में अब केवल प्रदेश के जरूरतमंद लोग ही शामिल होंगे और वास्तविक लाभार्थियों को ही इस योजना का लाभ दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि बिजली कंपनी (energy companies) के निजीकरण को लेकर जनहित में जो फैसला किया जाएगा वह सर्वसम्मति से लिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश में सब्सिडी (subsidy) की राशि किसानों के खाते में डाले जाने का प्रयोग किया जा रहा है जो देश का पहला प्रयोग है। ‌ ऐसा करने वाला मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) देश का पहला राज्य है।

खर्चे बढ़ने पर बढ़ेगा बिजली का दर

जानकारी के लिए बता दें कि मध्य प्रदेश ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyumna Singh Tomar) इंदौर के दौरे पर थे। जहां उन्होंने बिजली के बिल संबंधित विषय पर (Minister Pradyuman Singh Tomar said – electricity prices will increase) कीमतों में इजाफा होने के संकेत जाहिर किया है। ‌उन्होनें कहा है कि यदि प्रदेश में बिजली की खपत (electricity) बढ़ती है तो बिजली की कीमतों में भी बढ़ोतरी की जाएगी। मगर ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने यह भी कहा है कि कोशिश की जाएगी बिजली का खर्चा कम हो और आम जनता को सस्ती बिजली उपलब्ध कराई जा सके। इसके साथ ही उन्होंने बिजली कंपनियों के निजीकरण (privatisation of energy companies) को लेकर कहा है कि जो भी फैसला किया जाएगा, वह सर्वसम्मति से जनहित में लिया जाएगा। ‌

No one will be able to occupy government land now in Madhya Pradesh : शिवराज सरकार ने बनाया नया विभाग, नहीं कर सकेगा कोई अब सरकारी जमीन पर कब्जा

Scindia became neighbor of Digvijay and Kamal Nath : ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिला नया बंगला, पड़ोसी होंगे कमलनाथ और दिग्विजय सिंह

CM Shivraj visited Anuppur district : सीएम शिवराज ने दी जिले को करोड़ो की सौगात, अमरकंटक योजना का किया लोकार्पण

Uma Bharti raised voice for liquor ban in Madhya Pradesh : भाजपा नेत्री उमा भारती ने कहा मध्यप्रदेश में बंद होनी चाहिए शराब, ट्विटर पर ट्वीट करते हुए रखी अपनी बात