मध्यप्रदेश में किसानों को दी बड़ी राहत, कृषि मंत्री ने अधिकारियों को दिए यह निर्देश

Advertisement

भोपाल | मध्यप्रदेश में किसानों को दी बड़ी राहत ! सरकार का पूरा फोकस किसानों पर है  ! कृषि मंत्री कमल पटेल ने कृषि विभाग के अफसरों को निर्देश दिए हैं कि किसानों को बुवाई से पहले सभी खाद और बीज उपलब्ध करवाएं | ताकि किसान (Farmer) समय पर बोनी कर सके | इधर कृषि मंत्री कमल पटेल शिवपुरी – हरदा सोसाइटी की जांच करने का 24 घंटे का समय दिया है | बता दें कि किसान ने शिकायत की थी कि कृषि उपसंचालक खाद और बीज देने में आनाकानी कर रहे हैं |

Advertisement

मध्यप्रदेश में किसानों को दी बड़ी राहत

मध्यप्रदेश में किसानों को दी बड़ी राहत
मध्यप्रदेश में किसानों को दी बड़ी राहत

इधर शिवराज सिंह चौहान कैबिनेट मंत्रियों की लिस्ट बनाने में व्यस्त है ! ऐसे में किसान कल्याण और कृषि विकास मंत्रालय मंत्री कमल पटेल को दिया गया है | पटेल ने अफसरों को निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश की सबसे पहली आवश्यकता किसान है | यह लॉकडाउन में भी साबित हो चुका है | ऐसे में किसानों को समय पर आवश्यकतानुसार खाद उर्वरक और बीज उपलब्ध कराना अफसरों की जिम्मेदारी है | अधिकार सुनिश्चित करें क्षेत्र में सभी किसानों को उर्वरक और बीज पूरी मात्रा में मिल गए |

Madhya Pradesh के कृषि मंत्री कमलेश पटेल ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग ने प्रदेश स्तरीय मीटिंग के दौरान अफसरों को यह निर्देश दिया | अन्नदाता किसान को बारिश के दिनों में समय पर बुवाई करना होता है | ऐसे में खाद बीज कि कोई भी दिक्कत नहीं आना चाहिए | सभी जिलों में सोसाइटी के कृषि उपसंचालक को को निर्देश जारी कर दिए गए हैं |

Advertisement

कृषि मंत्री ने अधिकारियों को दिए यह निर्देश

मंत्री कमल पटेल ने निर्देश दिए हैं कि जहां पर उन्नत किस्म के बीज तैयार हो रहे हैं ! वहां से बीजों और उर्वरक का परिवहन हो रहा है या नहीं | इसकी रिपोर्ट और सैंपल जल्द से जल्द लेकर जिम्मेदार अधिकारी तक पहुंचाएं | खाद और बीज के सैंपल की रिपोर्ट बुवाई से पहले आना चाहिए | खाद बीज के विक्रय करने वाली कंपनियों को भी नोटिस जारी कर दिया गया है कि सरकार द्वारा खाद और बीज की लगाता मॉनिटरिंग की जा रही है | ऐसे में खाद बीज अमानक पाए जाने पर तुरंत भंडार को बंद कर दिया जाए | ताकि किसानों को इसी तरह नुकसान का सामना ना करना पड़े |

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here