EPFO Good News 2023 : EPFO ने दी बड़ी खुशखबरी अब EPF से हटेगी 15 हजार की पेंशन लिमिट अब मिलेगी इतनी पेंशन

EPFO Good News 2023 : करोड़ों नौकरीपेशा लोगों के लिए ईपीएफओ का नया सर्कुलर जारी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) ने कर्मचारी भविष्य निधि सदस्यों के लिए अपने विवरण को सही या अपडेट करने के लिए एक नई प्रक्रिया जारी की है। EPFO द्वारा जारी सर्कुलर के मुताबिक, ईपीएफ सदस्यों के नाम, जन्म तिथि और लिंग और कई अन्य विवरणों को सही करने के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया एसओपी जारी की गई है।

<yoastmark class=

सर्कुलर के अनुसार, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) खाताधारक प्रोफ़ाइल विवरण को सही करने के लिए सदस्य सेवा पोर्टल पर अपना आवेदन जमा कर सकता है। इसके साथ ही सदस्य सेवा पोर्टल पर आवश्यक दस्तावेज भी अपलोड करने होंगे, जिन्हें भविष्य के संदर्भ के लिए EPFO सर्वर पर रखा जाएगा।

खाते में किए गए बदलावों को नियोक्ता

इस बीच ईपीएफ सदस्य के लिए यह जरूरी है कि वह अपने खाते में किए गए बदलावों को नियोक्ता से भी मान्य कराए EPFO सर्कुलर के मुताबिक, ईपीएफ खाताधारक द्वारा किया गया अनुरोध नियोक्ता के लॉगिन में भी दिखाई देगा। इसके अलावा नियोक्ता की पंजीकृत ईमेल आईडी पर एक स्वचालित ईमेल भेजा जाएगा। ईपीएफ सदस्य केवल उन्हीं सदस्य खातों में डेटा को सही करवा सकते हैं जो वर्तमान नियोक्ता द्वारा बनाए रखा गया है। किसी भी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) के नियोक्ता को अन्य या पिछले संस्थानों से संबंधित सदस्य खातों में बदलाव करने का कोई अधिकार नहीं होगा।

ईपीएफ खाताधारक द्वारा अनुरोध जमा करने के बाद नियोक्ता को भी इसे सत्यापित करना होगा। नियोक्ता अपने रिकॉर्ड से जानकारी की जांच करेगा। यदि इसमें मेल लिखा है तो संयुक्त घोषणा आवेदन को अपडेशन के लिए EPFO कार्यालय भेजा जाएगा। यदि कोई जानकारी छूट गई है या छूट गई है तो आवेदन ईपीएफ सदस्य को वापस भेज दिया जाएगा। यह ईपीएफ सदस्य के कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) खाते पर दिखाई देगा।

EPFO नॉमिनी की प्रक्रिया

नाम और लिंग जैसे विवरणों को सही करने के लिए आधार आवश्यक होगा। छोटे-मोटे अपडेट के लिए आधार के साथ एक और दस्तावेज जैसे पासपोर्ट, पैन कार्ड, वोटर कार्ड आदि अपलोड करना होगा। यदि EPFO सदस्य की मृत्यु हो गई है, तो नाम सुधार के लिए कानूनी उत्तराधिकारियों की ओर से मृत्यु प्रमाण पत्र जमा करना होगा। बड़े सुधार के लिए आधार के साथ दो और दस्तावेज जमा करने होंगे। इसके अलावा ईपीएफ खाते में जन्मतिथि सही करने के लिए जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट और आधार कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) के सदस्य द्वारा जमा किया जा सकता है।

MIS Scheme Post office Benefits : Post Office में बस एक बार निवेश से होगी हर महीने तगड़ी इनकम, जाने कैसे