EPFO Interest Rates : करोड़ों कर्मचारियों को बड़ा झटका, कम हो सकता है PF ब्याज दर

EPFO Interest Rates : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) ब्याज दरों की घोषणा करता है ! ये वह ब्याज दरें होती हैं, जिनपर पीएफ ( PF ) खाताधारकों को संबंधित वित्त वर्ष में उनकी जमा राशि पर इंट्रस्ट दिया जाएगा ! लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वित्त वर्ष 2023-24 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) को ब्याज दरों की घोषणा नहीं करने के निर्देश दिए गए हैं ! इसे जबतक वित्त मंत्रालय से मंजूरी न मिल जाए

EPFO Interest Rates

EPFO Interest Rates

EPFO Interest Rates

सरकार ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) पर मिलने वाला ब्याज तय कर दिया है ! केंद्र सरकार ने ईम्पलॉयी प्रॉविडेंट फंड (EPF) पर साल 2023-24 के लिए के लिए ब्याज दरें 8.15 फीसदी का ऐलान कर दिया है ! EPFO के मुताबिक उन्होंने 24 जुलाई को केंद्र सरकार के पास 8.15 फीसदी की ब्याज दर पर अप्रूवल के लिए भेजा था, जिस पर सरकार ने मुहर लगा दी है ! अब EPF स्कीम के अंशधारकों को 8.15 फीसदी का ब्याज मिलेगा !

EPFO को सरप्लस की जगह नुकसान उठाना पड़ रहा है

इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर में आरटीआई के हवाले से यह जानकारी दी गई है ! खबर के मुताबिक, वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) को सरप्लस का अनुमान लगाने के बाद भी घाटा हुआ है ! माना जा रहा था कि ईपीएफओ ( EPFO ) के पास 449.34 करोड़ रुपये का सरप्लस होगा, जबकि उसे 197.72 करोड़ रुपये का घाटा हुआ ! इसके बाद पीएफ ( PF ) पर दी जा रही ब्याज दरों पर दोबारा विचार करने का फैसला किया गया.

ब्याज पर वित्त मंत्रालय का ये है रुख.

फिलहाल पीएफ पर मिल रहा ब्याज पहले से ही कम है ! कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए पीएफ पर ब्याज दर 8.15 फीसदी तय की है ! वित्त मंत्रालय का मानना ​​है कि ईपीएफ को होने वाले नुकसान को ध्यान में रखते हुए पीएफ ( PF ) की ब्याज दर पर दोबारा विचार करना जरूरी है ! पीएफ की ऊंची ब्याज दरों को कम कर बाजार दरों के बराबर लाने की जरूरत है !

सिर्फ इस स्कीम में पीएफ से ज्यादा ब्याज है

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) मौजूदा समय में अगर पीएफ पर मिलने वाले ब्याज की तुलना बाजार से करें तो यह वाकई ज्यादा है ! छोटी बचत योजनाओं में केवल एक वरिष्ठ नागरिक बचत योजना है, जिस पर फिलहाल पीएफ ( PF ) से ज्यादा ब्याज मिल रहा है ! इस योजना की ब्याज दर फिलहाल 8.20 फीसदी है ! सुकन्या समृद्धि योजना से लेकर नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (एनएससी) तक हर चीज पर ब्याज दरें पीएफ से कम हैं ! इसी वजह से वित्त मंत्रालय लंबे समय से पीएफ पर ब्याज को 8 फीसदी से कम करने की वकालत कर रहा है.

इस तरह पीएफ पर ब्याज कम हो गया

वहीं, अगर पीएफ पर पहले से मिल रहे ब्याज पर नजर डालें तो दरें फिलहाल निचले स्तर पर हैं ! पीएफ पर ब्याज लगातार कम किया गया है ! कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) वित्त वर्ष 2015-16 में पीएफ पर ब्याज दर 8.80 फीसदी से घटाकर 8.70 फीसदी कर दी गई थी ! ट्रेड यूनियनों के विरोध के बाद इसे फिर घटाकर 8.80 फीसदी कर दिया गया ! इसके बाद पीएफ ( PF ) पर ब्याज दरें घटती गईं और 2021-22 में 8.10 फीसदी के निचले स्तर पर आ गईं ! 2022-23 में इसे मामूली बढ़ाकर 8.15 फीसदी कर दिया गया.

EPFO के पास हैं इतने करोड़ सब्सक्राइबर्स

निजी क्षेत्र में काम करने वाले करोड़ों लोगों के लिए पीएफ ( PF ) सामाजिक सुरक्षा का सबसे बड़ा आधार है ! इससे रिटायरमेंट के बाद जीवन के लिए फंड बनाने में मदद मिलती है ! पीएफ पर अच्छा ब्याज मिलने से करोड़ों लोगों को फायदा हो रहा है ! पीएफ का पैसा ईपीएफओ यानी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन द्वारा प्रबंधित किया जाता है ! फिलहाल कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ​​) के सब्सक्राइबर्स की संख्या 6 करोड़ से ज्यादा है.

Axis Bank FD Rate : एक्सिस बैंक ने छुड़ाए ग्राहकों के पसीने, FD ब्याज दरों में कटौती, यहां देखें

LPG Gas Cylinder Price News : महिलाओ की बल्ले बल्ले अब गैस सिलेंडर मिलेगा 450 रुपये में अभी करे बुक

Atal Pension Yojana : खुसखबरी अब पति-पत्नी को हर महीने मिलेगी10,000 रुपये की पेंशन, जानें कैसे