EPFO Pension Rule 2023 : नियम बदला, जानें अब 30,000 X 30/70 से कितनी होगी आपकी EPFO पेंशन

EPFO Pension Rule 2023 : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) ने नए साल के पहले पेंशनर्स को एक बड़ा तोहफा दिया है ! सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश के बाद EPFO ने 29 दिसंबर को एक सर्कुलर जारी किया है ! इस सर्कुलर में EPFO ने नवंबर में दिए सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश का पालन करते हुए कुछ पेंशनर्स को ज्यादा पेंशन (Higher Pension) देने का फैसला किया है.

EPFO Pension Rule 2023

EPFO Pension Rule 2023

EPFO Pension Rule 2023

इस सर्कुलर में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) ने बताया है कि 31 अगस्त 2014 तक रिटायर हो चुके पेंशनर्स (Pensioners) को इसका लाभ नहीं दिया जाएगा ! जबकि 1 सितंबर 2014 या उसके बाद कर्मचारी पेंशन योजना ( Employees Pension Scheme ) से जुड़े लोगों को अधिक पेंशन पाने का विकल्प दिया जाएगा ! इसके साथ ही नई गाइलाइन जारी करते हुए बताया है कि कौन से कर्मचारी अधिक पेंशन (Pension) पाने के योग्य हैं और वह इसका लाभ पाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकते हैं !

इन कर्मचारियों को मिलेगा अधिक पेंशन का लाभ

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के मुताबिक, जिन कर्मचारियों ने अपनी नौकरी के समय कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) योजना के तहत उच्च वेतन में योगदान दिया है और रिटायरमेंट (Retirement) से पहले उच्च पेंशन ऑप्शन (Higher Pension Option) चुना था उन्हें यह लाभ दिया जाएगा ! EPFO ने कहा है कि इसके तहत लाभ पाने वालों में केवल वे कर्मचारी योग्य माने जाएंगे, जिन्होंने 5000 रुपये या 6500 रुपये की सैलरी लिमिट से अधिक पर पेंशन पाने के लिए ईपीएस में योगदान दिया था.

Employees’ Provident Fund Organisation की तरफ से मिलता है ब्याज

बता दें कि इस कर्मचारी पेंशन योजना ( Employees Pension Scheme ) के तहत कर्मचारी के वेतन में से 12% राशि काटकर पेंशन स्कीम में जमा कर दी जाती है और इतनी ही राशि कर्मचारी के खाते में है उसकी कंपनी को जमा करनी होती है ! यानी कर्मचारी की सेविंग 1 दिन में दुगुनी हो जाएगी ! इसके बाद कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) की तरफ से ब्याज मिलता है जो किसी भी बैंक एफडी से ज्यादा होता है.

अदालत ने इस सीमा को किया था रद्द

गौरतलब है कि केंद्र वर्तमान में ईपीएफओ ( EPFO ) की कर्मचारी पेंशन योजना के लिए हर साल लगभग 6,750 करोड़ रुपये का भुगतान करता है, योजना के लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) ग्राहकों के कुल मूल वेतन का 1.16 फीसदी योगदान करती है ! हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने साल 2014 की कर्मचारी पेंशन योजना ( Employees Pension Scheme ) की वैधता को बरकरार रखा था, हालांकि अदालत ने पेंशन कोष में शामिल होने के लिए 15,000 रुपये मासिक वेतन की सीमा को रद्द कर दिया था.

EPFO Pension Rule 2023 यह है पेंशन का फॉर्मूला

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organization ) सेवानिवृत्ति के बाद आपको कितनी पेंशन मिलेगी, इसका सूत्र है – कर्मचारी का मासिक वेतन = पेंशन योग्य वेतन X पेंशन योग्य सेवा /70 ! मौजूदा नियमों के मुताबिक किसी भी कर्मचारी के वेतन का 8.33 फीसदी हिस्सा उसके पेंशन खाते में जमा होता है ! हालांकि पेंशन योग्य वेतन की अधिकतम सीमा 15 हजार रुपये है ! ऐसे में अगर किसी व्यक्ति की सैलरी 15000 रुपए है तो 15000 X 8.33/100=1250 रुपए हर महीने उसके पेंशन खाते में जाएंगे !

EPFO Pension New Rule 2023 से ब्याज मिलता है

बता दें कि इस कर्मचारी पेंशन योजना ( Employees Pension Scheme ) के तहत कर्मचारी के वेतन से 12 फीसदी राशि काटकर पेंशन योजना में जमा की जाती है और कंपनी को इतनी ही राशि कर्मचारी के खाते में जमा करनी होती है ! यानी कर्मचारी की बचत 1 दिन में दोगुनी हो जाएगी ! इसके बाद कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organization ) से ब्याज मिलता है जो किसी भी बैंक एफडी से ज्यादा है !

PF Transfer Rule Change : अब बिना झंझट के PF का पैसा ट्रांसफर कर सकेंगे, जॉन कैसे

LIC Aadhaar Shila Policy : महिलाओं के लिए खुला पिटारा, 87 रुपये जमा करें, मिलेंगे पूरे 11 लाख

Honda पर कयामत बनकर टूटेंगी Hero Passion Pro, दमदार इंजन और माइलेज के साथ जीतेंगी लोगो के दिल