EPFO Pension Update : ईपीएफ पेंशन के मामले में फॉर्म 10सी और फॉर्म 10डी का क्या उपयोग है यहां जानें

EPFO Pension Update : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के नियमों के मुताबिक, कर्मचारी की बेसिक सैलरी+डीए का 12 फीसदी हर महीने ईपीएफ खाते में जमा होता है ! नियोक्ता का योगदान भी उतना ही है ! इसमें से 8.33% कर्मचारी के पेंशन फंड ईपीएस ( EPF ) में जाता है और शेष 3.67% पीएफ खाते में जाता है ! इस तरह साल दर साल पीएफ खाते ( PF Accounts ) में एकमुश्त रकम जमा होती जाती है, जिसे नियमानुसार आंशिक या पूरी तरह से निकाला जा सकता है ! यह राशि जरूरतमंद कर्मचारी के काम आ सकती है।

EPFO Pension Update

EPFO Pension Update

EPFO Pension Update

वहीं, वर्षों तक कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) में जमा किया गया पैसा रिटायरमेंट के बाद पेंशन के रूप में मिलता है ! हां, यदि रोजगार 10 वर्ष से कम समय के लिए है, तो पूर्ण और अंतिम निपटान के समय ईपीएस ( EPS ) राशि एक साथ निकाली जा सकती है ! लेकिन यह पैसा 10 साल या उससे अधिक की सेवा के बाद ही पेंशन के रूप में मिलता है ! पीएफ की रकम और पेंशन का पैसा पाने के लिए कर्मचारी को जरूरत के मुताबिक अलग-अलग फॉर्म भरने पड़ते हैं ! आइए आपको बताते हैं कि ईपीएफ ( EPF ) पेंशन निकालने के लिए कौन सा फॉर्म जरूरी है और ईपीएफ फंड निकालने के लिए कौन सा फॉर्म जरूरी है ! है।

फॉर्म 10D

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के नियमों के मुताबिक, अगर किसी व्यक्ति ने 10 साल तक लगातार काम करके ईपीएफ पेंशन अकाउंट ( EPS ) में योगदान दिया है तो रिटायरमेंट के बाद पेंशन लाभ लेने के लिए उसे फॉर्म 10डी भरना होता है ! इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति किसी अन्य स्थिति में ईपीएफओ ( EPFO ) से पेंशन पाने का हकदार है तो उसे फॉर्म 10डी भरना होगा।

EPFO फॉर्म 10सी

यदि कर्मचारी की नौकरी की अवधि 10 वर्ष नहीं है और वह अपने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) का पूर्ण और अंतिम निपटान करते समय ईपीएस में जमा पैसा एक साथ निकाल सकता है ! ऐसे में उसे फॉर्म 10C भरना होगा ! इसके अलावा आप पेंशन योजना प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए भी इस फॉर्म का उपयोग कर सकते हैं ! इस सर्टिफिकेट के जरिए आप अपना पीएफ बैलेंस एक कंपनी से दूसरी कंपनी में ट्रांसफर करवा सकते हैं।

EPF फॉर्म 19

फॉर्म 19 को पीएफ क्लेम फॉर्म 19 EPF दावा फॉर्म 19 कहा जाता है ! जब आपको पूरा ईपीएफ फंड निकालना होता है तो आप पीएफ विदड्रॉल फॉर्म 19 का इस्तेमाल करते हैं ! कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के नियमों के मुताबिक, कोई भी व्यक्ति लगातार दो महीने तक बेरोजगार रहने या रिटायरमेंट के बाद अपने ईपीएफ फंड का पूरा पैसा निकाल सकता है।

EPFO Pension फॉर्म 31

नौकरी के दौरान भी पीएफ फंड (PF Fund ) में जमा पैसे को आंशिक रूप से निकाला जा सकता है ! जब आप अपने पीएफ बैलेंस का कुछ हिस्सा या एडवांस पीएफ निकालते हैं, तो आपको पीएफ निकासी फॉर्म 31 की आवश्यकता होती है ! इसे ईपीएफ क्लेम फॉर्म 31 कहा जाता है ! कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) आंशिक निकासी के नियम आवश्यकता के अनुसार अलग-अलग होते हैं।

Post Office FD Scheme : इस स्कीम में 5 लाख के निवेश पर मिलेंगे 10,51,175, यानी डबल से भी ज्यादा, जाने

LPG Cylinder Rates : एलपीजी सिलेंडर के दाम, जानिए अब कितना रह गया रेट

Post Office में 10 साल तक जमा करें 5 लाख रुपये, मिलेंगे 10,51,175 रुपये दोगुने से भी ज्यादा मुनाफा