EPFO Retirement Rule : जल्दी रिटायर होने वाले कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, सरकार ने बदल दिया ये नियम

EPFO Retirement Rule : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) ने पेंशन स्कीम में एक बड़ा बदलाव किया है ! जो करोड़ों कर्मचारियों को राहत देने वाला है ! दरअसल, रिटायरमेंट बॉडी फंड ने 6 महीने से भी कम समय में रिटायर होने वाले अपने कर्मचारियों को कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) ईपीएस-95 के तहत जमा राशि निकालने की अनुमति दे दी है ! इससे पहले 6 माह के पूरे होने के बाद ही पेंशन निकाले जाने का नियम था !

EPFO Retirement Rule

EPFO Retirement Rule

EPFO Retirement Rule

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के अंतर्गत श्रम मंत्रालय की ओर से बयान में बताया गया ! कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज ने सरकार से जो सिफारिश की उसमें छह महीने से भी कम सेवा अवधि वाले सदस्यों को अपने EPS ( Employee Pension Scheme ) खाते से निकासी की सुविधा देना भी शामिल है ! देशभर में साढ़े 6 करोड़ से ज्यादा EPFO सब्सक्राइबर्स हैं !

Employees’ Provident Fund Organisation में नए बदलाव

केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव ने बैठक में मंगलवार को कहा कि सेवानिवृत्ति कोष निकाय कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) का कवरेज मौजूदा स्तर 6.5 करोड़ से 10 करोड़ ग्राहकों तक बढ़ाया जाएगा ! ईपीएफओ ( EPFO ) सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के दायरे का विस्तार किया जाएगा. इसे 6.5 करोड़ से बढ़ाकर 10 करोड़ ग्राहकों तक किया जाएगा !

EPFO Retirement Rule

इसके साथ ही उन्होंने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) विजन 2047 दस्तावेज भी लॉन्च किया. अपने मुकदमों को कम करना और कवरेज बढ़ाना ईपीएफओ ( EPFO ) की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है ! हमने 29 श्रम कानूनों को चार व्यापक संहिताओं में शामिल किया है ! ये कोड ईपीएफओ सहित सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के विस्तार के लिए प्रदान करते हैं !

Employee Pension Scheme

इसके साथ ही न्यासी मंडल ने 34 वर्षों से अधिक समय से इस EPS ( Employee Pension Scheme ) का हिस्सा रहे सदस्यों को आनुपातिक पेंशन लाभ देने की भी अनुशंसा की है ! इस सुविधा से पेंशनर्स को रिटायरमेंट लाभ के निर्धारण के समय ज्यादा पेंशन पाने में मदद मिलेगी ! गौरतलब है कि अभी तक कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के ग्राहकों को

Employees’ Provident Fund Organisation

6 महीने से कम की सेवा बाकी रहने पर सिर्फ अपने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के खाते में जमा राशि की निकासी की ही अनुमति मिली हुई है ! लेकिन रिटायरमेंट बॉडी फंड की ओर से लिए गए इस बड़े फैसले के बाद अब उन कर्मचारियों को बड़ी राहत मिलेगी ! जिनकी कुल 6 महीने की ही सेवा बाकी है !

भूपेंद्र यादव की अध्यक्षता में बैठक

CBT की ओर से सोमवार को हुई ! 232वीं बैठक में सरकार से सिफारिश की गई ! कि EPS ( Employee Pension Scheme ) योजना में कुछ संशोधन कर रिटायर होने वाले कर्मचारियों को पेंशन फंड ( Pension Fund ) में जमा राशि निकालने की अनुमति दी जाए ! श्रम मंत्रालय के एक बयान में कहा गया ! कि केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव की अध्यक्षता में संपन्न हुई ! इस बैठक में ईपीएस-95 के तहत जमा राशि निकालने की सिफारिश पर फैसला लिया गया !

इस नीति को भी मिली मंजूरी : EPFO Retirement Rule

रिपोर्ट के अनुसार, श्रम मंत्रालय की ओर से बताया गया है ! कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के न्यासी मंडल ने एक्सचेंज ट्रेडेड फंड यूनिट में निवेश के लिए एक विमोचन नीति को भी मंजूरी दी है !

Employees’ Provident Fund Organisation

बोर्ड ने 2022-23 के लिए ब्याज दर की गणना के लिए आय में शामिल किए जाने वाले पूंजीगत लाभ की बुकिंग के लिए कैलेंडर वर्ष 2018 की अवधि के दौरान खरीदी गई ! ईटीएफ यूनिट्स के विमोचन को भी मंजूरी दी. श्रम मंत्रालय की ओर से इसके अलावा वित्त वर्ष 2021-22 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के कामकाज पर तैयार 69वीं वार्षिक रिपोर्ट को भी स्वीकृत की गई ! जिसे संसद में पेश किया जाएगा !

यह भी जाने :- 

DA Hike Good News : केंद्रीय कर्मचारियों को जल्द मिलेगी खुशखबरी, जानिए कितनी हो सकती है बढ़ोतरी, जाने