GST Rules Change : 1 अक्टूबर से GST के नियमों में बड़ा बदलाव, सरकार ने दी जानकारी , यहाँ देखे

GST Rules Change : वस्तु एवं सेवा कर ( GST ) के तहत 10 करोड़ रुपये से अधिक के कारोबार वाली कंपनियों के लिए 1 अक्टूबर 2022 से ई-चालान ( E-Invoice ) अनिवार्य कर दिया गया है !

GST Rules Change

GST Rules Change

अक्टूबर से GST के नियमों ( GST Rules ) में बड़ा बदलाव होने जा रहा है ! इसके तहत 10 करोड़ रुपये से ज्यादा टर्नओवर वाले कारोबारियों को अब 1 अक्टूबर से बी2बी ट्रांजैक्शन के लिए इलेक्ट्रॉनिक इनवॉयस ( E-Invoice ) जेनरेट करना होगा ! CBITC ( Central Board of Indirect Taxes and Customs ) ने सर्कुलर जारी कर यह जानकारी दी है ! वस्तु एवं सेवा कर ( GST ) के तहत 10 करोड़ रुपये से अधिक के कारोबार वाली कंपनियों के लिए 1 अक्टूबर 2022 से ई-चालान अनिवार्य कर दिया गया है ! 

विभाग द्वारा दी गई जानकारी : GST Rules Change

बता दें कि इससे पहले मार्च में 20 से 50 करोड़ के टर्नओवर वाले करदाताओं के लिए रजिस्ट्रेशन ( GST Registration ) और लॉगइन की सुविधा चालू की गई थी ! वहीं, बोर्ड ने 1 अप्रैल 2022 से GST ( Goods and Service Tax ) ई-चालान ( GST E-Invoice ) की सीमा 50 करोड़ से घटाकर 20 करोड़ कर दी थी ! गौरतलब है ! कि पिछले साल 1 अप्रैल से 50 करोड़ रुपये से ज्यादा टर्नओवर वाली कंपनियां बी टू बी इनवॉयस जनरेट ( GST B To B Invoice ) कर रही थीं ! जिसे अब 10 करोड़ रुपये से ज्यादा टर्नओवर वाली कंपनियों तक बढ़ाया जा रहा है !

जानिए क्यों लिया गया ये फैसला?

भारत सरकार गुड्स एंड सर्विस टैक्स के नियमों ( GST Rules ) में लगातार बदलाव कर रही है ! दरअसल, सरकार का मकसद टैक्स चोरी को कम करना है ! इसे लेकर अक्टूबर 2020 में सरकार ने फैसला किया था ! कि जिन कंपनियों का टर्नओवर 500 करोड़ से ज्यादा है ! उन्हें अपने बी2बी ट्रांजैक्शन पर ई-इनवॉयस जेनरेट करना होगा !

पोर्टल को देनी होगी जानकारी : GST Rules Change

आपको बता दें ! कि फिलहाल यह सीमा 20 करोड़ है ! जिसे CBDT ( Central Board Of Direct Taxes ) ने फिर से घटाकर 10 करोड़ करने का फैसला किया है ! आपको बता दें ! कि माल एवं सेवा कर दाता ई-चालान पंजीकरण पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन भेज सकेंगे ! ध्यान रखें कि चालान के तहत, करदाताओं को अपने आंतरिक सिस्टम के माध्यम से बिल जनरेट करना होता है ! और इसे ऑनलाइन चालान पंजीकरण पोर्टल ( IRP ) पर रिपोर्ट करना होता है  !

यह भी जाने :-

PF Account Holders : बेसिक सैलरी 20 हजार रुपए, तो मिलेगा 2.79 करोड़ रुपए का मुनाफा, यहाँ देखे

PPF Investment : हर महीने जमा करें 12500 रुपये, पाएं 1 करोड़ रुपये का मुनाफा , यहाँ देखे

Sukanya Samriddhi Scheme : इस योजना में ब्याज से जुड़े ये नियम जरूर जाने , यहाँ देखे

PM Kaushal Vikas Scheme : सरकार दे रही युवाओ को रोजगार जल्दी आवेदन करे , यहाँ देखे