Income Tax Rule Change : इस साल से बड़े ITR नियम में बदलाव, बेहतर ITR सेविंग प्लानिंग के लिए जानें

Income Tax Rule Change : वित्तीय वर्ष 2023-24 को 4 महीने से ज्यादा का समय बीत चुका है ! अगर आपने अब तक इस साल के लिए ITR ( Income Tax Return ) प्लानिंग नहीं की है ! तो अब देर न करें. टैक्स प्लानिंग करने से पहले यह जरूर जान लें ! कि इस वित्त वर्ष से इनकम टैक्स सिस्टम में क्या बड़े बदलाव होंगे ! ये आपको टैक्स प्लानिंग में मदद करेंगे और पैसे बचाने में मदद करेंगे !

Income Tax Rule Change

Income Tax Rule Change

Income Tax Rule Change

नई ITR ( Income Tax Return ) व्यवस्था को आकर्षक बनाने के लिए सरकार ने वित्त वर्ष 2023-24 के बजट में कई बदलाव किए हैं ! आइए पहले उनके बारे में बात करते हैं ! यदि आप इस वित्तीय वर्ष से पुरानी या नई कर व्यवस्था नहीं चुनते हैं !

Income Tax Return

तो नई कर व्यवस्था डिफ़ॉल्ट रूप से लागू हो जाएगी ! अगर आप छूट और कटौतियों के साथ पुरानी ITR ( Income Tax Return ) व्यवस्था में बने रहना चाहते हैं ! तो आपको इसका विकल्प चुनना होगा !

नई ITR ( Income Tax Return ) व्यवस्था में सेक्शन 87ए के तहत मिलने वाली टैक्स छूट की सीमा बढ़ा दी गई है ! अगर आप नया सिस्टम चुनते हैं ! तो 7.27 लाख रुपये तक की सालाना आय पर कोई टैक्स नहीं देना होगा ! पुरानी टैक्स व्यवस्था में 5 लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगता है !

छूट की मूल सीमा बढ़ाई गई

नई ITR ( Income Tax Return ) व्यवस्था में मूल छूट की सीमा बढ़ा दी गई है ! और टैक्स स्लैब में बदलाव किया गया है ! अब 0 से 3 लाख रुपये तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगेगा ! वहीं 3 से 6 लाख रुपये की आय पर 5 फीसदी, 6 से 9 लाख की आय पर 10 फीसदी, 9 से 12 लाख की आय पर 15 फीसदी, 12 से 15 लाख की आय पर 20 फीसदी और 15 लाख से ऊपर की सालाना आय पर 30 फीसदी टैक्स दिया जाएगा !

Income Tax Return

नई ITR ( Income Tax Return ) व्यवस्था में अब वेतनभोगी व्यक्ति को स्टैंडर्ड डिडक्शन का लाभ मिलेगा ! इसके तहत करदाता को 50,000 रुपये की छूट मिलेगी ! 15 लाख रुपये या उससे अधिक कमाने वालों को मानक कटौती के रूप में 52,500 रुपये का लाभ मिलेगा !

Income Tax Rule Change

गैर-सरकारी कर्मचारियों के लिए अवकाश नकदीकरण पर कर छूट की सीमा बढ़ाकर 25 लाख रुपये कर दी गई है ! पहले यह सिर्फ तीन लाख रुपये थी ! इससे रिटायरमेंट या नौकरी छोड़ने के समय कर्मचारी पर ITR ( Income Tax Return ) टैक्स का बोझ कम हो जाएगा !

नई ITR ( Income Tax Return ) व्यवस्था में ऊंचे सरचार्ज को 37 फीसदी से घटाकर 25 फीसदी कर दिया गया है ! ये दरें 5 करोड़ रुपये से ज्यादा की आय पर लागू होंगी ! सरचार्ज में कटौती से अधिक कमाई करने वालों पर टैक्स का बोझ कम होगा !

Income Tax Rule Change

डेट म्यूचुअल फंड पर दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ लाभ और इंडेक्सेशन लाभ को समाप्त कर दिया गया है ! 1 अप्रैल से डेट म्यूचुअल फंड में किए गए ! निवेश को भुनाने पर टैक्स स्लैब के मुताबिक टैक्स देना होगा ! यह ITR ( Income Tax Return ) नियम उन डेट फंडों पर लागू होता है ! जिनका घरेलू इक्विटी में निवेश 35 फीसदी से कम है !

Income Tax Rule Change

इसका असर गोल्ड और इंटरनेशनल म्यूचुअल फंड स्कीमों पर भी पड़ेगा ! 31 मार्च 2023 से पहले किए गए निवेश पर LTCG का लाभ मिलता रहेगा ! इसमें निवेश के 3 साल बाद भुनाने पर इंडेक्सेशन बेनिफिट के साथ 20% टैक्स लगेगा ! यदि होल्डिंग अवधि 3 वर्ष से कम है ! तो शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स (STCG) लागू होगा ! यह बदलाव इनकम टैक्स रिटर्न ( Income Tax Return ) द्वारा किया गया है !

यह भी जाने : –

SBI Superhit FD Scheme : वरिष्ठ नागरिकों को 7.60% ब्याज देने वाली FD योजना की आखिरी तारीख बढ़ी, जाने