Income Tax Rules : लाखों कर्मचारियों की बढ़ जाएगी सैलरी, इनकम टैक्स ने इन नियमों में कर दिया बदलाव

Income Tax Rules : सैलरी पाने वाले लोगों के लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ( Income Tax Department ) की ओर से गुड न्यूज आई है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने रेंट-फ्री होम से जुड़े नियमों में कुछ बदलाव को लेकर नोटिफिकेशन जारी किए हैं। नए ITR ( Income Tax Return ) नियम के लागू होने के बाद से कर्मचारियों के टेक होम यानी इन हैंड सैलरी में बढ़ोतरी होगी !

Income Tax Rules

<yoastmark class=

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ( Income Tax Department ) देश में नौकरी करने वाले लोगों के लिए अब एक नया नियम आ गया है। इसके लागू होने के बाद सैलरीड क्‍लॉस की इनहैंड सैलरी बढ़ जाएगी। नौकरीपेशा को यह राहत भरी खबर इनकम टैक्स रिटर्न ( Income Tax Return ) की ओर से आई है।

ITR Department

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ( Income Tax Department ) ने कंपनी की ओर से कर्मचारियों को दिए गए रेंट-फ्री अकोमोडेशन (Rent-Free Accommodation – किराया मुक्त आवास) के नियमों में बदलाव कर दिया है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने इस मामले में ITR ( Income Tax Return ) नोटिफिकेशन जारी कर दिया है।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ( Income Tax Department ) में इससे कर्मचारियों की टेक होम सैलरी यानी इन हैंड सैलरी बढ़ जाएगी। इससे कर्मचारी और ज्यादा सेविंग कर सकेंगे। रेंट-फ्री अकोमोडेशन से जुड़े ITR ( Income Tax Return ) नियमों में बदलाव 1 सितंबर से लागू हो चुके हैं।

Income Tax Department

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ( Income Tax Department ) CBDT के अनुसार, केंद्र या राज्य सरकार के कर्मचारियों के अलावा अन्य कर्मचारी, जो कंपनी के मालिकाना हक वाले घर में रहते हैं। उनके वैल्यूएशन के मूल्यांकन में अब बदलाव किया गया है। नए ITR ( Income Tax Return ) नियम के अनुसार, जहां कर्मचारियों को कंपनी की ओर से अन-फर्निश्ड आवास दिया जाता है।

Income Tax Rules

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ( Income Tax Department ) में ऐसे आवास का मालिकाना हक खुद कंपनी के पास है। उसका वैल्यूएशन अब अलग तरीके से होगा। इनकम टैक्स रिटर्न ( Income Tax Return ) में अब वो शहरी क्षेत्र जिसकी जनसंख्या 2011 की जनगणना के अनुसार 40 लाख से अधिक है ! तो वहां HRA वेतन का 10 फीसदी होगा। इससे पहले यह 2001 की जनगणना के अनुसार 25 लाख की आबादी वाले शहरों में सैलरी में 15 फीसदी के बराबर था।

कैसे होगा कर्मचारियों को फायदा

इनकम टैक्स रिटर्न ( Income Tax Return ) में इसे आसान भाषा में ऐसे समझते हैं। मान लीजिए कि कोई कर्मचारी कंपनी की ओर से मुहैया कराए गए ! घर में रह रहा है। उसके लिए कैलकुलेशन अब नए फॉर्मूले के तहत किया जाएगा। इसकी वजह ये है ! कि दर को कम किया गया है। यानी की इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ( Income Tax Department ) के अनुसार टोटल सैलरी में से अब कम कटौती होगी।

Income Tax Return

इनकम टैक्स रिटर्न ( Income Tax Return ) में जिसके चलते हर महीने कर्मचारियों की इन हैंड सैलरी में इजाफा हो जाएगा। इस मामले में जानकारों का कहना है ! कि एक तरफ इससे कर्मचारियों की सैलरी बढ़ेगी। उनकी सेविंग बढेगी। वहीं इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ( Income Tax Department ) में सरकारी राजस्व में कमी आएगी।

यह भी जाने :- 

NPS Big News Update : हर महीने जमा करें 6,000 रुपये, मिलेगी 50,000 रुपये पेंशन, यहां जानें पूरी योजना