NPS Investment : इस तरह करें निवेश तो मिलेगा डबल से भी ज्यादा फायदा, देखते रह जाएंगे सब, यहाँ जाने

NPS Investment : नेशनल पेंशन सिस्टम ( National Pension System ) की तमाम खूबियां आपको पता होंगी ! ये भी पता होगा कि इसमें इनकम टैक्स छूट मिलती है ! 50,000 रुपए तक का टैक्स बेनिफिट है ! लेकिन, क्या आप जानते हैं ! नेशनल पेंशन ( Pension ) सिस्टम खुद लेने में कोई फायदे का सौदा नहीं है ! आखिर क्यों? और अगर खुद से न लें तो क्या करना चाहिए ! दरअसल, NPS को अगर आप एम्प्लॉयर के जरिए लेंगे ! तो ज्यादा फायदा मिलेंगे. यहां तक की टैक्स छूट में भी फायदा हो जाएगा ! आइये समझते हैं कैसे…

NPS Investment

NPS Investment

NPS Investment

टैक्स सेविंग की प्लानिंग हमेशा फाइनेंशियल ईयर की शुरुआत में होती है ! NPS ( National Pension System ) के अंतर्गत सैलरी ज्यादा है और इन्वेस्टमेंट भी कितना हो ! टैक्स की लायबिलिटी कम ही नहीं होती. लेकिन, एक ऐसा ऑप्शन है ! जिससे आपको काफी फायदा मिल सकता है ! एंप्लॉयर के जरिए एनपीएस (NPS) में कॉन्ट्रिब्यूशन पर कुछ अतिरिक्त टैक्स छूट मिलती है ! एंप्लॉयर के जरिए नेशनल पेंशन ( Pension ) सिस्टम में निवेश से आपको कैसे मिलेगी अतिरिक्त टैक्स छूट !

80CCD में मिलती है अतिरिक्त छूट : National Pension System

नेशनल पेंशन सिस्टम ( National Pension System ) में निवेश पर इनकम टैक्स की धारा 80CCD के तहत टैक्स छूट मिलती है ! इसमें भी दो सब-सेक्शन होते हैं ! 80CCD(1) और 80CCD(2). इसके अलावा 80CCD(1) का एक और सब सेक्शन होता है 80CCD(1B). 80CCD(1) के तहत 1.5 लाख रुपए और 80CCD(1B) के तहत 50 हजार रुपए की टैक्स छूट हासिल कर सकते हैं ! वहीं, पेंशन ( Pension ) के अंतर्गत अब 80CCD(2) से इस 2 लाख की मिली छूट के अलावा भी इनकम टैक्स में और छूट ले सकते हैं !

कैसे मिलेगी ज्यादा छूट का फायदा : Pension

एंप्लॉयर की तरफ से आपके NPS ( National Pension System ) में निवेश पर टैक्स छूट मिलती है ! इसके तहत आप अपनी बेसिक सैलरी और महंगाई भत्ते का 10 फीसदी तक नेशन पेंशन ( Pension ) सिस्टम में निवेश करवा सकते हैं ! और उस पर आपको टैक्स छूट मिलेगी !

NPS Investment

वहीं, अगर आप सरकारी कर्मचारी हैं ! तो यह आंकड़ा आपके लिए 14 फीसदी तक हो सकता है. ज्यादातर कंपनियां NPS ( National Pension System ) की सुविधा देती हैं. कंपनी के HR के जरिए आप नेशनल पेंशन ( Pension ) सिस्टम में निवेश कर सकते हैं ! अच्छी बात ये रहेगी कि आप अतिरिक्त टैक्स छूट पा सकेंगे !

कैसे करें टैक्स का कैलकुलेशन

नेशनल  पेंशन सिस्टम ( National Pension System ) के अंतर्गत 10 लाख रुपए के सैलरी ब्रैकेट पर टैक्सेबल इनकम का उदाहरण देखते हैं ! सबसे पहले कुल सैलरी में से 80C का 1.5 लाख रुपए और 80CCD(1B) का 50 हजार रुपए का डिडक्शन निकाल दें ! फिर 50 हजार रुपए का स्टैंडर्ड डिडक्शन है ! अब पेंशन ( Pension ) में टैक्सेबल सैलरी होगी 7.50 लाख रुपए. अगर रीइम्बर्समेंट को अपनी सैलरी ब्रैकेट का पार्ट बनाते हैं ! तो यूनिफॉर्म अलाउंस, ब्रॉडबैंड अलाउंस, कन्वेंस अलाउंस, एंटरटेनमेंट जैसे रीइम्बर्समेंट से करीब 2.50 लाख रुपए तक टैक्स बचा सकते हैं ! रीइंबर्समेंट क्लेम करने के बाद टैक्सेबल सैलरी 5 लाख रुपए होगी !

Zero कैसे हो सकता है टैक्स : National Pension System

अब 80CCD(2) के तहत अगर आप एंप्लॉयर से नेशनल पेंशन ( National Pension System ) सिस्टम में निवेश करवाते हैं ! तो 50 हजार रुपए तक का निवेश किया जा सकता है ! इस तरह आपकी टैक्सेबल इनकम 5 लाख रुपए से कम हो जाएगी और आपको 87A के तहत रिबेट का फायदा मिल जाएगा ! मतलब आपकी कुल कमाई पर कोई टैक्स नहीं लगेगा ! यहां एक बात ध्यान देने वाली है कि एम्प्लॉयर के जरिए 80CCD(2) में निवेश करने पर आप ज्यादा से ज्यादा छूट ले सकते हैं ! इस नेशनल पेंशन सिस्टम ( National Pension System ) में निवेश की कोई लिमिट नहीं है ! हालांकि, ये आपकी बेसिक सैलरी से तय होगा !

यह भी जाने :- 

PPF Calculator : पैसों की जरूरत ऐसे होगी पूरी, ये है समय से पहले फंड निकालने की शर्त और तरीका, जाने