NSC New Rules : इस स्कीम में 100 रु से 10,000 रु तक के खरीद सकते हैं सर्टिफिकेट, जाने नियम

NSC New Rules : नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट ( National Saving Certificate ) डाकघर की एक पॉपुलर स्मॉल सेविंग्स स्कीम है ! जिसमें तकरीबन फिक्स्ड डिपॉजिट के बराबर ही ब्याज मिल रहा है ! 5 साल की मैच्योरिटी वाली इस स्कीम में जुलाई से सितंबर 2023 तिमाही के लिए बयाज दर 7.7 फीसदी सालाना है ! इसमें ब्याज ( NSC Interest Rate ) सालाना कंपाउंडेड होता है ! लेकिन इसका भुगतान मैच्‍योरिटी पर किया जाता है !

NSC New Rules

NSC New Rules

NSC New Rules

वहीं इस नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट ( National Saving Certificate ) में निवेश कर आप टैक्स का लाभ भी ले सकते हैं ! यह उन निवेशकों के लिए बेहतर विकल्प है ! जो रिस्क फ्री इन्वेस्टमेंट कर स्टेबल रिटर्न पाना चाहते हैं ! इस स्कीम ( NSC Scheme ) में आपका फंड पूरी तरह से सेफ है ! वहीं बैंक बचत खाते की तुलना में डबल रिटर्न मिलता है !

NSC New Rules 10 लाख निवेश मैच्योरिटी पर कितना होगा

  • जमा : 10 लाख रुपये
  • NSC ( National Saving Certificate ) ब्याज दर : 7.7 फीसदी सालाना कंपाउंडेड
  • टेन्योर : 5 साल
  • मैच्‍योरिटी पर अमाउंट : 14,49,034 रुपये
  • ब्याज ( NSC Interest Rate ) का फायदा : 4,49,034 रुपये

कौन और कितने वैल्‍यू का खरीद सकते हैं : National Saving Certificate

आप नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट ( National Saving Certificate ) को पोस्ट ऑफिस की किसी ब्रांच से खरीद सकते हैं ! आप 100, 500, 1000, 5000 और 10,000 रुपये के वैल्‍यू में यह सर्टिफिकेट खरीद सकते हैं ! निवेश के लिए मिनिमम अमाउंट 100 रुपये होना चाहिए ! जबकि अधिकतम अमाउंट की कोई सीमा नहीं है ! यानी आप इसमें कितनी भी रकम निवेश ( Investment ) कर सकते हैं !

NSC New Rules

कोई भी व्यक्ति अपने अकाउंट से या नाबालिग के नाम पर NSC ( National Saving Certificate ) खरीद सकता है ! NSC को सिंगल या ज्‍वॉइंट अकाउंट के जरिए शुरू कर सकते हैं ! इसे पासबुक के रूप में जारी किया जाता है ! नियम के अनुसार, NSC को अनिवासी भारतीय (NRI), हिंदू अनडिवाइडेड फैमिली (HUFs), पब्लिक या प्राइवेट कंपनियों, ट्रस्ट, सोसायटी या अन्य संस्थानों द्वारा नहीं खरीदा जा सकता है !

NSC पर टैक्स के नियम

इसमें निवेश करने पर इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट मिलती है ! हालांकि यह छूट 1.5 लाख रुपये तक के निवेश ( Investment ) पर ही मिलती है ! NSC में सोर्स (टीडीएस) पर टैक्स नहीं काटा जाता है ! हालांकि, इंटरेस्ट इनकम टैक्स स्लैब के अनुसार टैक्सेबल है ! पहले 4 साल तक NSC ( National Saving Certificate ) से मिले ब्याज को फिर से निवेश कर दिया जाता है !

National Saving Certificate

इसलिए टैक्स में छूट दी जाती है. हालांकि 5 साल पूरे होने पर उसे फिर से निवेश नहीं कर सकते ! इसलिए ब्याज ( NSC Interest Rate ) से हुई कमाई पर स्लैब रेट के हिसाब से टैक्स लगता है ! NSC ( National Saving Certificate ) में मैच्योरिटी पूरी होने से पहले पैसे निकालने की सुविधा नहीं है ! सिर्फ सिंगल अकाउंट होल्डर या ज्वॉइंट अकाउंट में किसी एक की डेथ के मामलों में ऐसा हो सकता है !

PPF Investment Rules : PPF समेत पोस्ट ऑफिस स्कीम में लगाते हैं पैसा, ये बात जानना बेहद जरूरी, जाने

Post Office KVP Plan 2023 : पोस्ट ऑफिस की खास स्कीम, 115 महीनों में डबल हो जाएगा आपका पैसा, यहाँ जाने