PPF Interest Rate Update : PPF को लेकर रहें सतर्क, लोगों को ब्याज दर पर मिल सकता है नया अपडेट

PPF Interest Rate Update : देश में कई लोग पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) योजना में निवेश करते हैं ! पीपीएफ जैसी छोटी बचत योजनाओं की पीपीएफ ब्याज दरों ( PPF Interest Rate ) की तिमाही समीक्षा वित्त मंत्रालय के जरिए इसी महीने होने जा रही है ! भले ही पीपीएफ खाताधारक ब्याज दर में बढ़ोतरी की उम्मीद कर रहे हों, लेकिन अप्रैल 2020 के बाद से इसमें कोई बदलाव नहीं हुआ है !

PPF Interest Rate Update

PPF Interest Rate Update

PPF Interest Rate Update

पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) के निवेशकों को सरकार ब्याज दरों का तोहफा दे सकती है. चालू माह के अंत तक लघु बचत योजनाओं की पीपीएफ ब्याज दरों ( PPF Interest Rate ) की दोबारा समीक्षा होनी है, ऐसे में पीपीएफ और अन्य लघु बचत खाताधारक ब्याज दरों में बढ़ोतरी की उम्मीद कर रहे हैं ! हालांकि, मौजूदा आर्थिक माहौल में ब्याज दरें बढ़ने की उम्मीद कम ही नजर आ रही है !

पीपीएफ योजना

वर्तमान आर्थिक माहौल और इस तथ्य को देखते हुए कि ब्याज दर चक्र अभी तक चरम पर नहीं पहुंचा है, पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ), एससीएसएस और एनएससी जैसे लघु बचत कार्यक्रमों में यथास्थिति बनाए रखने की संभावना है ! हालांकि वृद्धि हमेशा एक संभावना है, वर्तमान स्थिति, विशेष रूप से आर्थिक स्थिरता की आवश्यकता के कारण, यह संभावना नहीं है कि इस समय पीपीएफ ब्याज दरों ( PPF Interest Rate ) में वृद्धि की जाएगी ! यह मानना ​​उचित है कि राजकोषीय जिम्मेदारी और आर्थिक सुधार का समर्थन करने के लिए दरें समान रहेंगी !

PPF Interest Rate Update

पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) के कर लाभ इसे निवेशकों के लिए एक आकर्षक योजना बनाते हैं ! यह अनुमान लगाया गया है कि 7.1% ब्याज पर भी, उच्च कर दायरे में आने वाले करदाताओं के लिए पीपीएफ ब्याज दरों ( PPF Interest Rate ) से प्रभावी कर-पश्चात रिटर्न 10.32% बैठता है ! यह भी एक कारण है कि सरकार ने पीपीएफ ब्याज दर को अपरिवर्तित रखा है, जबकि कई अन्य छोटी बचत योजनाओं की दरें पिछली दो तिमाहियों में बढ़ी हैं !

लघु बचत योजनाएँ

पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) और एससीएसएस और एनएससी जैसी छोटी बचत योजनाओं के बीच अंतर यह है कि पीपीएफ से होने वाली आय अन्य की तुलना में कर मुक्त है ! इसका मतलब यह है कि भले ही पीपीएफ ब्याज दरों ( PPF Interest Rate ) अन्य योजनाओं की तुलना में कम रिटर्न देता है, लेकिन निकासी पर आपकी कर-पश्चात आय अभी भी अधिक हो सकती है ! अब तक, छोटी बचत योजनाओं को सरकार से अधिक समर्थन मिला है क्योंकि वे आम तौर पर उन लोगों की सहायता करते हैं जो दूसरों के लिए बचत कर रहे हैं ! जैसे- सुकन्या समृद्धि योजना.

PPF दर में बदलाव क्यों नहीं हो सकता?

विशेषज्ञों का मानना ​​है कि पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) की ब्याज दर अभी कुछ और समय तक स्थिर रह सकती है ! इसमें वित्तीय बाज़ारों की स्थिति, सरकार की बजटीय नीतियां और अर्थव्यवस्था की सामान्य स्थिति शामिल है ! इससे पीपीएफ ब्याज दरों ( PPF Interest Rate ) पर काफी असर पड़ सकता है.

PPF Interest Rate में 1.5 लाख निवेश पर कितना ब्याज

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) निवेश स्कीम अधिक ब्याज देने के लिए सबसे लोकप्रिय सरकारी स्कीम्स में शुमार है ! 15 साल की निवेश सीमा वाली इस पीपीएफ ब्याज दरों ( PPF Interest Rate ) में सालाेना अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा किए जा सकते हैं ! इस रकम पर वर्तमान ब्याज दर 7.1 फीसदी लागू होती है ! इस तरह 15 साल तक हर साल 1.5 रुपये जमा किए जाते हैं, पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) जिस पर सालाना ब्याज दर 10,650 रुपये के रूप में मिलती है !

DA Arrear Payment : खुशखबरी 18 महीने के DA पर होने वाला है फैसला,मिलेंगे 2 लाख रुपये से ज्‍यादा

PM Awas Yojana Latest List : सभी लोगों खाते में आ गए पहली क़िस्त के पैसे, नई लिस्ट में नाम चेक करें

Post Office FD Rate Hike : 10 साल के लिए जमा करें 5 लाख, मिलेंगे 10,51,175 रुपये, देखें डिटेल