PPF Withdrawal Rule : अचानक जरूरत पड़ने पर पीपीएफ खाते से कैसे निकालें पैसा,जानिए ये नियम

PPF Withdrawal Rule : पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) देश की लोकप्रिय छोटी बचत योजनाओं में से एक है ! इसमें ग्राहकों की निवेश राशि पूरी तरह सुरक्षित रहती है ! इस सरकारी योजना में आप सालाना न्यूनतम 500 रुपये और अधिकतम सीमा 1.5 लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं ! फिलहाल सरकार पीपीएफ खाते ( PPF Accounts ) पर 7.1 फीसदी सालाना की दर से ब्याज दे रही है ! इसमें निवेश करके आप अच्छा रिटर्न पा सकते हैं ! आप देश के किसी भी बैंक और पोस्ट ऑफिस में पीपीएफ खाता खुलवा सकते हैं.

PPF Withdrawal Rule

PPF Withdrawal Rule

PPF Withdrawal Rule

आपको बता दें कि पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) में निवेश करने पर आपको चक्रवृद्धि ब्याज मिलता है, जिसकी गणना सालाना आधार पर की जाती है ! आप पोस्ट ऑफिस समेत देश के लगभग सभी सरकारी और प्राइवेट बैंकों में पीपीएफ खाते ( PPF Accounts ) खुलवा सकते हैं ! इसके लिए भारतीय नागरिक होना जरूरी है ! पीपीएफ खाता नाबालिग बच्चों के नाम पर खोला जा सकता है ! लेकिन इसके लिए माता-पिता का होना बहुत जरूरी है ! बच्चे के खाते से होने वाली कमाई को माता-पिता की आय में जोड़ा जाता है !

समय से पहले निकाल सकते हैं

  1. पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) में 15 साल का लॉकिंग पीरियड होता है ! इसलिए अगर आप लंबी अवधि के लिए निवेश करना चाहते हैं तो पीपीएफ एक बेहतरीन विकल्प है !
  2. अगर आपको बीच में पैसे की जरूरत है तो इस स्कीम में आंशिक निकासी की सुविधा उपलब्ध है.
  3. अगर आप 15 साल से पहले पैसा निकालना चाहते हैं तो सात साल के बाद ही इसकी इजाजत है.
  4. इस योजना में निवेश करते समय यह भी ध्यान रखें कि पीपीएफ खाते की 15 साल की परिपक्वता की गणना में निवेश शुरू करने का वर्ष नहीं गिना जाता है !
  5. आप सात साल के बाद पीपीएफ खाते से आंशिक निकासी कर सकते हैं !
  6. आप पीपीएफ खाते ( PPF Accounts ) से 50 फीसदी रकम निकाल सकते हैं ! लेकिन आप साल में केवल एक बार ही पैसा निकाल सकते हैं और निकाली गई आय टैक्स के दायरे में आएगी !
  7. चालू वर्ष से पहले वित्तीय वर्ष के अंत में खाते में मौजूदा शेष का 50 प्रतिशत या चालू वर्ष से पहले चौथे वित्तीय वर्ष के अंत में खाते में मौजूदा शेष का 50 प्रतिशत निकाला जा सकता है !

PPF Withdrawal Rule

  • पीपीएफ खाते ( PPF Accounts ) से पैसा निकालने के लिए आपको फॉर्म सी जमा करना होगा ! यह बैंक या पोस्ट ऑफिस में उपलब्ध होगा !
  • फॉर्म में आपको अपना पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) अकाउंट नंबर और जितनी रकम आप निकालना चाहते हैं उसका जिक्र करना होगा.
  • इसके अलावा रेवेन्यू स्टांप की भी जरूरत पड़ेगी.
  • फिर इसे पासबुक के साथ जमा करना होगा.
  • प्रक्रिया पूरी होने के बाद रकम आपके खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी.

आपको ये लाभ मिलेंगे

  1. पीपीएफ खाते ( PPF Accounts ) को तीन साल तक चलाने के बाद आप इस पर लोन ले सकते हैं.
  2. खाता खोलने के तीसरे से छठे वर्ष तक ऋण सुविधा उपलब्ध है !
  3. पहला ऋण बंद होने के बाद ही दूसरे ऋण के लिए आवेदन किया जा सकता है !
  4. पीएफ खाते में जमा राशि का केवल 25 फीसदी हिस्सा ही आप लोन ले सकते हैं.
  5. पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) में पैसा जमा करके आप बेहतर रिटर्न के साथ-साथ टैक्स छूट का भी लाभ उठा सकते हैं !
  6. आप इनकम टैक्स की धारा 80C के तहत टैक्स छूट का लाभ उठा सकते हैं, जिसकी अधिकतम सीमा 1.5 लाख रुपये है.

PPF Withdrawal Rule : कब निकाले जा सकते हैं पैसे

पीपीएफ खाते के नियमों (PPF Withdrawal Rules) नियमों के मुताबिक पीपीएफ खाते से विड्रॉल केवल इस शर्त पर किया जा सकता है कि जब आपको इमरजेंसी में पैसों की जरूरत है ! अपने परिवार या खुद की बीमारी के इलाज के आप पीपीएफ खाते ( PPF Accounts ) से पैसे निकाल सकते हैं ! इसके अलावा बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए भी आप खाते में पैसे निकाल सकते हैं ! पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( Public Provident Fund ) इसके अलावा आप बच्चों की शादी के लिए भी खाते से आंशिक निकासी कर सकते हैं.

LIC Jeevan Shiromani Policy News : अब हर युवा बन सकता है करोड़पति, बस चार साल तक करें ये काम

NPS Pension Investment : इस पेंशन स्कीम में करे निवेश, हर महीने मिलेंगी 70 से 75 हजार रु तक की पेंशन

SSY Account Update : फटाफट कर लें यह जरूरी काम, नहीं अकाउंट हो सकता है फ्रीज, यहाँ जाने