Ration Card Rule Change : राशन कार्ड के नियम बदलें, जाने कैसे अपडेट करें अपना राशन कार्ड

Ration Card Rule Change : अब मोबाइल एप से राशन कार्ड ( Ration Card ) संबंधित सभी समस्याओं का समाधान हो सकता है ! सरकार ने हाल ही में ‘मेरा राशन’ मोबाइल ऐप लॉन्च किया है ! राशन कार्ड धारकों ( Ration Card Holders ) को सरकार से अनाज मिलता है ! यह माई राशन ऐप 10 भाषाओं में है ! एप की मदद से राशन कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है ! राशन कार्ड डाउनलोड ( Download Ration Card ) किया जा सकता है ! यह देखा जा सकता है कि राशन कार्ड पैन कार्ड से जुड़ा है या नहीं !

Ration Card Rule Change

Ration Card Rule Change

Ration Card Rule Change

इस राशन कार्ड ऐप ( Ration Card App ) में माइग्रेशन की सुविधा उपलब्ध है ! यदि आप एक राज्य से दूसरे राज्य में जाते हैं, तो आप पंजीकरण के लिए आवेदन कर सकते हैं ! ऐप की मदद से यह भी पता लगाया जा सकता है कि राशन कार्ड धारकolder) को क्या-क्या चीजें मिल रही हैं !

श्रमिकों को राशन कार्ड भी जारी किया जाएगा

सुप्रीम कोर्ट ने अहम फैसला देते हुए कहा कि मौलिक अधिकार हर नागरिक का अधिकार है ! कोर्ट ने मंगलवार को योन कार्यकर्ताओं को दिए वोटर आईडी कार्ड, आधार और राशन कार्ड ( Ration Card ) जारी करने का आदेश दिया और कहा कि केंद्र, सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश श्रमिकों को पहचान पत्र जारी करें ! इतना ही नहीं कोर्ट ने राशन देने के भी निर्देश जारी किए हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एनजीओ दरबार महिला समन्वय समिति की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह निर्देश दिया ! याचिका में कहा गया है कि कोरोना महामारी के दौरान श्रमिकों ( Labour ) को मुश्किलों का सामना करना पड़ा था, जिसे लेकर याचिका में इन बातों को उठाया गया था ! इससे पहले पिछले साल 29 सितंबर को कोर्ट ने केंद्र और अन्य को बिना पहचान का सबूत मांगे राशन और राशन कार्ड ( Ration Card ) जारी करने का निर्देश दिया था !

कोर्ट ने चार हफ्ते में मांगी रिपोर्ट (Ration Card Rule Change)

पीठ ने कहा कि यौनकर्मियों को राशन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र और आधार कार्ड ( Aadhar Card ) जारी करने के संबंध में स्थिति रिपोर्ट चार सप्ताह के भीतर दी जानी चाहिए ! पीठ ने अपने आदेश में कहा कि आदेश की एक प्रति राज्य और जिला विधिक सेवा प्राधिकरणों को आवश्यक कार्रवाई के लिए भेजी जाए ! इसके साथ ही सरकार को विभिन्न पहचान पत्र बनाते समय सेक्स वर्कर का नाम और पहचान गोपनीय रखने के भी निर्देश दिए गए हैं ! कोर्ट ने कहा है कि जल्द से जल्द रिपोर्ट दी जाए !

इससे पहले कोर्ट ने राशन कार्ड जारी करने के निर्देश दिए थे !

आपको बता दें कि न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव, न्यायमूर्ति बीआर गवई और न्यायमूर्ति बीवी नागरत्ना ने इस बात पर नाराजगी व्यक्त की कि योन श्रमिकों को राशन उपलब्ध कराने का निर्देश 2011 में जारी किया गया था, लेकिन इसे अभी तक लागू नहीं किया गया है ! पीठ ने कहा, राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को करीब एक दशक पहले राशन कार्ड दिए गए थे ! साथ ही पहचान पत्र जारी करने का निर्देश दिया ! ऐसा कोई कारण नहीं है कि उन निर्देशों को अब तक लागू नहीं किया गया है !

नई सेवा के तहत प्रदान की जाने वाली सुविधाएं: राशन कार्ड नियम बदलें

  1. आप कॉमन सर्विस सेंटर ( Common Service Center ) के माध्यम से राशन कार्ड अपडेट कर सकते हैं
  2. राशन कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ा जा सकता है !
  3. आप अपने राशन कार्ड का डुप्लीकेट प्रिंट भी प्राप्त कर सकते हैं !
  4. इससे आप राशन की उपलब्धता के बारे में भी जान सकते हैं !
  5. राशन कार्ड से संबंधित शिकायत आप कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से भी कर सकते हैं !
  6. राशन कार्ड ( Ration Card ) खो जाने पर कोई भी नए राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है !

डिजिटल इंडिया द्वारा प्रदान की गई जानकारी

डिजिटल इंडिया ( DIgital India ) ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर राशन कार्ड से जुड़ी यह अहम जानकारी दी है ! इस डिजिटल इंडिया के अनुसार, ‘कॉमन सर्विस सेंटर सुविधा ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं ! इससे देशभर में 3.70 लाख सीएससी के जरिए राशन कार्ड ( Ration Card ) सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी !

यह भी पढ़े :- Employee Pension 2021 : बढ़ेगी पेंशन की रकम अब मिलेगी 20 हजार रुपये के बेसिक पर मिलेंगे, 8571 रूपए

India Post All Savings Yojana : पोस्ट ऑफिस की योजना में मिलता है सबसे ज्यादा ब्याज ऐसे ले लाभ

Kisan Vikas Patra Interest Rates : किसान विकास पत्र में मिलता है इतना ब्याज, जानें यहां