UP BC Sakhi Yojana Registration : सखी योजना में पंजीयन शुरू , महिलाओं को मिलेंगे 4000 रु. प्रतिमाह

UP BC Sakhi Yojana Registration  : उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई नई योजना जिसका नाम है यूपी बैंकिंग सखी योजना ( UP BC Sakhi Yojana )  ! इस योजना में बीसी मित्र या बैंकिंग संवाददाता सखी योजना ( Uttar Pradesh Sakhi Yojana ) के नाम से भी जाना जा रहा है। हम जानते हैं कि आपके मन में बहुत सारे प्रश्न आते हैं जैसे उत्तर प्रदेश  ( Uttar Pradesh ) में आवेदन की प्रक्रिया क्या है, आवेदन कौन कर सकता है, आवेदन पत्र ऑनलाइन भरा जाएगा या ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें आदि। पूरी जानकारी के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

UP BC Sakhi Yojana Registration 

UP BC Sakhi Yojana Registration

Uttar Pradesh BC Sakhi Yojana Registration

यह महिलाओं के लिए रोजगार का बहुत अच्छा अवसर है। यूपी बैंकिंग सखी योजना ( UP BC Sakhi Yojana ) के तहत सखी की ओर से प्रत्येक बैंकिंग उत्तर प्रदेश  ( Uttar Pradesh ) नगरसेवक को अगले 6 माह के लिए रु. 4000 प्रति माह। इसके अलावा बैंकों द्वारा लेनदेन करने की स्थिति में उन्हें कमीशन भी मिलेगा।  उत्तरप्रदेश सखी योजना ( Uttar Pradesh Sakhi Yojana ) पर सरकार 430 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है।

क्या है बीसी सखी योजना का उद्देश्य

जैसा कि आप जानते हैं कि लॉकडाउन के समय आम नागरिकों के लिए बैंकिंग का काम करना एक चुनौती बन गया है. कई बार बैंकिंग कार्य बहुत महत्वपूर्ण होने के कारण लोगों को डोनिस के दौरान बैंकों में जाने से रोका जा रहा है। उत्तर प्रदेश  ( Uttar Pradesh ) सरकार ने बैंकिंग प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए उत्तरप्रदेश सखी योजना ( Uttar Pradesh Sakhi Yojana ) शुरू की है। यूपी बैंकिंग सखी योजना ( UP BC Sakhi Yojana ) के तहत बैंकिंग पार्षद सखी घर-घर जाकर बैंकिंग कार्य करेंगी। डिजिटल ट्रैकिंग के माध्यम से घर बैठे ही महत्वपूर्ण बैंकिंग कार्य किए जाएंगे जिनमें “बीसी सखी” ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है

कोरोना संकट के दौरान जहां किसी खास वजह से लोगों के आने-जाने पर रोक लगा दी गई है, वहीं यह भी जरूरी था कि उत्तर प्रदेश  ( Uttar Pradesh ) सरकार बैंकिंग के लिए कोई ऐसा कदम उठाए जो लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन न करे और साथ ही जरूरी बैंकिंग कार्य भी हो. जितना हो सके आसानी से मिलें। इसलिए यूपी बैंकिंग सखी योजना ( UP BC Sakhi Yojana ) को अमल में लाना होगा और लोगों तक घर बैठे बैंकिंग सुविधाएं पहुंचाई जानी चाहिए.

बीसी सखी योजना के तहत कितना मिलेगा वेतन या मानदेय

  • पहले 6 महीनों के लिए रु. 4000 प्रति माह दिया जाएगा
  • एक बैंकिंग उपकरण के लिए अलग से रु. 50000 दिए जाएंगे
  • इसके अलावा बैंकिंग गतिविधियों के लिए अलग से कमीशन दिया जाएगा।
  • 6 महीने बाद यह कमीशन सिर्फ के माध्यम से ही कमाएगा

यूपी बीसी सखी योजना | UP BC Sakhi Yojana Registration

अभी तक किसी यूपी बैंकिंग सखी योजना ( UP BC Sakhi Yojana ) का लाभ लेना है पंजीकरण/पंजीकरण करना है। इसके लिए ऑफलाइन आवेदन फॉर्म भरे जाएंगे। यदि आप भी पात्रता शर्तों को पूरा करते हैं तो आप आवेदन करेंगे। अब आप जानना चाहते हैं कि उत्तरप्रदेश सखी योजना ( Uttar Pradesh Sakhi Yojana ) ऑनलाइन आवेदन फॉर्म स्टेशन प्रक्रिया पूरी तरह से कहां जाएगी, इसके लिए आपको बता दें कि बहुत जल्द ऑनलाइन आवेदन स्वीकार किया जाएगा और आवेदन स्वीकार होने के बाद सरकार द्वारा राशि जारी की जाएगी। उत्तर प्रदेश  ( Uttar Pradesh ) बीसी सखी डिजिटल डिवाइस प्रोक्योरमेंट फाउंड्री और बैंकिंग से संबंधित संचालन अग्रिम रूप से शुरू होते हैं 6 महीने के लिए रु 4000 प्रतिमाह  और अलग से कमीशन प्राप्त करें |

उत्तर प्रदेश ने 22 मई 2021 को यूपी बैंकिंग सखी योजना ( UP BC Sakhi Yojana )की घोषणा की थी जिसमें योजना की प्रकृति के बारे में केवल थोड़ी सी जानकारी दी गई थी, उत्तर प्रदेश  ( Uttar Pradesh ) आधिकारिक स्रोतों से आवेदन संबंधी जानकारी अभी तक प्राप्त नहीं हुई है, हालांकि उम्मीद है कि बहुत जल्द जैसे ही यह आवेदन इस उत्तरप्रदेश सखी योजना ( Uttar Pradesh Sakhi Yojana ) के लिए आवेदन करने जा रहा है ! लॉक डाउन के कारण बैंकिंग संचालन में कोई कठिनाई नहीं हुई, इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार ने घर बैठे बैंकिंग सुविधा प्रदान करने के लिए बैंकिंग कॉर्पोरेट सखी या बीसी सखी योजना की घोषणा की है।

Uttar Pradesh Sakhi Yojana 

यह उत्तरप्रदेश सखी योजना ( Uttar Pradesh Sakhi Yojana ) आधिकारिक तौर पर वेबसाइट स्टेशन पेज पर उपलब्ध इस लेख पर विस्तार से उपलब्ध होगी  !  उत्तर प्रदेश  ( Uttar Pradesh ) बैंकिंग डिवाइस के लिए सरकार रु. 50000 अलग से दिए जाने वाले हैं। साथ ही अगले 6 महीनों के लिए प्रत्येक यूपी बैंकिंग सखी योजना ( UP BC Sakhi Yojana ) में प्रतिमाह रु. बैंकिंग कार्य अलग से करने के लिए 4000 का कमीशन दिया, 6 माह बाद सब्सिडी के लिए आय के लिए इसी कमीशन पर निर्भर रहना होगा।