Apni Dukan Apna Vyavsay Yojana : राजस्थान में लागू हुई अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना, सीएम ने स्वरोजगार को दिया बढ़ावा

Apni Dukan Apna Vyavsay Yojana राजस्थान में लागू हुई अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना, सीएम ने स्वरोजगार को दिया बढ़ावा : आज क समय में कोरोना संकट (Corona Crisis) के चलते हर राज्य में या कहा जाए कि पूरे देश में बेरोजगारी तेजी से बढ़ती जा रही है। इसी के चलते हर राज्य की सरकार अपने राज्य के बेरोजगार लोगों के लिए योजना चला रही हैं जिसके तहत बेरोजगारों को किसी न किसी तरह से खुद का रोजगार शुरू करने के लिए प्रेरित किया जाता है। साथ ही उनकी आर्थिक मदद भी की जाती है। वहीं हाल ही में राजस्थान सरकार द्वारा भी राज्य के बेरोजगार लोगों के लिए एक योजना की शुरूआत की है। इस योजना के तहत सरकार राज्य के सभी बेरोजगार लोगों को रोजगार के लिए आर्थिक मदद कर रही है।

Apni Dukan Apna Vyavsay Yojana : राजस्थान में लागू हुई अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना, सीएम ने स्वरोजगार को दिया बढ़ावा

Rajasthan CM Launches Apni Dukan Apna Vyavsay YojanaTo Promote Self employment
Rajasthan CM Launches Apni Dukan Apna Vyavsay YojanaTo Promote Self employment

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Rajasthan Chief Minister Ashok Gehlot) ने सोमवार को यूडीएच (UDH) की कई अलग-अलग परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किया है, जिसके लिए कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जिसके दौरान अपने निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) के जरिए हाउसिंग बोर्ड (Housing board) की अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना (Apni Dukan Apna Vyavsay Yojana) की शुरूआत की है।

इस योजना में प्रदेश के 13 शहरों में 1681 दुकानें और व्यावसायिक भूखंड बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगे। साथ ही योजना के तहत 27 वर्गमीटर तक के दुकानों और भूखंडों का निस्तारण ई-बिड सबमिशन (Disposal E-Bid Submission) से और इससे बडे़ दुकानों और भूखंडों का निस्तारण ई-ऑक्शन (Disposal E-Bid Submission) के जरिए होगा।

Apni Dukan Apna Vyavsay Yojana की शुरूआत

साथ ही बताया जा रहा है कि इनकी कीमत कम से कम 2.88 लाख रूपए से शुरू है। वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस बात के लिए हाउसिंग बोर्ड (Housing board) की प्रशंसा करते हुए बधाई भी दी और कहा कि यह योजना (Apni Dukan Apna Vyavsay Yojana) 2 अक्टूबर को लांच हो रही है, जो महात्मा गांधी के स्वरोजगार के सपने को पूरा करेगी।

इसके अलावा हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा (Housing Board Commissioner Pawan Arora) ने योजना के बारे में ज्यादा जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना महामारी (Corona Crisis) के मद्देनजर लोगों का रोजगार छीन गया। ऐसी विकट स्थिति में बोर्ड ने स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए बोर्ड की विकसित कॉलोनियों में निर्मित दुकानों/ व्यावसायिक भूखंडों को आवंटित करने की योजना ‘अपनी दुकान-अपना व्यवसाय‘ (Apni Dukan Apna Vyavsay Yojana) लांच किया है।

IAS और IPS अफसरों की आवासीय योजना AIS Residency को सरकार ने दी मंजूरी

साथ ही बताया जा रहा है कि हाउसिंग बोर्ड (Housing board) की अखिल भारतीय सेवा (All india service) के अधिकारियों के लिए प्रस्तावित आवासीय योजना एआईएस रेजीडेंसी (Residential Scheme AIS Residency) शुरू करने के लिए यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल (UDH Minister Shanti Dhariwal) ने भी हांमी भर दी है। वहीं हाउसिंग बोर्ड कमिशनर पवन अरोड़ा (Housing Board Commissioner Pawan Arora) ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि अखिल भारतीय सेवाओं (All india service) के अधिकारियों के लिए राज्य सरकार द्वारा सराहनीय स्टेप लेते हुए स्ववित्तपोषित आवासीय योजना (Self funded housing scheme) लाई गई है। यह योजना प्रताप नगर सेक्टर-17 में विकसित की जाएगी। योजना में 192 बहुमंजिला फ्लैट बनाए जाएंगे।

Housing Board 1 लाख मास्क बांटेगा

साथ ही हाउसिंग बोर्ड कमिशनर पवन अरोड़ा (Housing Board Commissioner Pawan Arora) ने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) ने कोरोना महामारी (Corona Crisis) से बचाव के लिए मास्क लगाने और मास्क वितरण के बारे में जन आंदेालन के शुरूआत करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही इस बारे में हाउसिंग बोर्ड (Housing board) ने पहल लेते हुए सोमवार को सीएम की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित बैठक में ही 1 लाख मास्क मुफ्त में बाटने का निर्णय लिया। इससे पहले कोरोना से बचाव के लिए अपने सभी कार्यालयों पर नो मास्क-नो एंट्री (No mask-no entry) के स्वागत द्वार भी बनाएं है।

यह भी पढे़ं:- PM Kisan Samman Nidhi Yojana : पीएम किसान योजना के अलावा भी मिलेगी 5 हजार की राशि, जानें क्या है प्रस्ताव
Advertisement