PM Fasal Bima Yojana Online : बाढ़-बारिश से बर्बाद हो गई है आपकी फसल तो मिलेगा मुआवजा, पढ़े यहाँ

PM Fasal Bima Yojana Online : भारत किसानों की भूमि है जहां ग्रामीण आबादी का अधिकतम अनुपात कृषि पर निर्भर है ! माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 13 जनवरी, 2016 को नई प्रधान मंत्री आवास योजना ( PMFBY ) नई योजना का अनावरण किया ! यह योजना उन किसानों ( Farmer ) पर प्रीमियम बोझ को कम करने में मदद करेगी जो अपनी खेती के लिए ऋण लेते हैं और उन्हें इसके खिलाफ सुरक्षित भी करेंगे !

PM Fasal Bima Yojana Online

PM Fasal Bima Yojana Online

PM Fasal Bima Yojana Online

बीमा दावा निपटान की प्रक्रिया को तेज और आसान बनाने का भी निर्णय लिया गया है ! ताकि किसानों को फसल बीमा योजना ( Crop Insurance Scheme ) के संबंध में कोई समस्या न हो ! यह योजना संबंधित राज्य सरकारों के सहयोग से भारत के प्रत्येक राज्य में लागू की जाएगी ! यह पीएमएफबीवाई योजना ( PMFBY Yojana ) भारत सरकार के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के तहत संचालित की जाएगी !

योजना की मुख्य विशेषताएं :-

  • किसानों ( Farmer ) को सभी खरीफ फसलों के लिए केवल 2% और सभी रबी फसलों के लिए 1.5% प्रीमियम का भुगतान करना होगा ! वार्षिक वाणिज्यिक और बागवानी फसलों के मामले में, भुगतान किया जाने वाला प्रीमियम केवल 5% होगा !
  • किसानों द्वारा भुगतान की जाने वाली प्रीमियम दर बहुत कम है ! और किसी भी प्राकृतिक आपदा में फसल क्षति के लिए किसानों को पूर्ण बीमा राशि प्रदान करने के लिए शेष राशि का भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा !
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ( Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana ) में सरकारी सब्सिडी की कोई ऊपरी सीमा नहीं है ! यदि शेष प्रीमियम 90% है, तो भी वह सरकार द्वारा वहन किया जाएगा !
  • पहले किसानों को कम भुगतान का दावा करने वाली प्रीमियम दर को कम करने का प्रावधान था ! अब इसे हटा दिया गया है और किसानों को बिना किसी कटौती के पूरी बीमा राशि के खिलाफ दावा मिलेगा !
  • प्रौद्योगिकी के उपयोग को काफी हद तक प्रोत्साहित किया जाएगा ! दावा भुगतान में देरी को कम करने के लिए फसल डेटा को पकड़ने और अपलोड करने के लिए स्मार्ट फोन, रिमोट सेंसिंग ड्रोन और जीपीएस तकनीकों का उपयोग किया जाएगा !
  • पीएम फसल बीमा योजना ( PM Fasal Bima Yojana ) को एक ही बीमा कंपनी, भारतीय कृषि बीमा कंपनी (एआईसी) के तहत नियंत्रित किया जाएगा !

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana योजना के उद्देश्य

PMFBY योजना के तहत प्राकृतिक आपदाओं, कीटों और बीमारियों के परिणामस्वरूप अधिसूचित फसलों के खराब होने की स्थिति में किसानों को बीमा कवरेज और वित्तीय सहायता प्रदान करना है ! खेती में उनकी निरंतर प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए किसानों ( Farmer ) की आय को स्थिर करना ! किसानों को नई और आधुनिक कृषि पद्धतियों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना ! कृषि क्षेत्र को ऋण का प्रवाह सुनिश्चित करना यह सारे उद्देश्य है !

आवश्यक दस्तावेज

निम्नलिखित दस्तावेजों के साथ फसल बीमा ( Crop Insurance ) करवा सकते हैं:

  • बचत खाता पासबुक की प्रति !
  • आधार नंबर की कॉपी !
  • भूमि दस्तावेज की प्रति !
  • भूमि विवरण और फसल की बुवाई की स्वघोषित घोषणा !
  • राज्य सरकार द्वारा अपेक्षित/निर्दिष्ट कोई अन्य दस्तावेज !

योजना के तहत कवर (PM Fasal Bima Yojana Online)

1. फसल कवरेज –

पीएमएफबीवाई ( PM Fasal Bima Scheme ) योजना के अंतर्गत आने वाली फसलों का उल्लेख नीचे किया गया है !

  • खाद्य फसलें (अनाज, बाजरा और दालें)
  • तिलहन
  • वार्षिक वाणिज्यिक/वार्षिक बागवानी फसलें

2. जोखिम कवरेज –

PM Fasal Bima Yojana के तहत फसल के बाद और फसल के नुकसान के जोखिम को कवर किया जाता है !

  1. रोका बुवाई/रोपण जोखिम: इस बीमा योजना ( Fasal Bima Yojana ) में कम वर्षा या प्रतिकूल मौसम! की स्थिति के कारण बीमित क्षेत्र को बुवाई से रोका जाता है !
  2. स्थायी फसल (फसल कटाई के लिए): गैर-रोकथाम योग्य जोखिमों के कारण उपज हानि को कवर करने के लिए व्यापक जोखिम बीमा प्रदान किया जाता है ! अर्थात सूखा, शुष्क काल, बाढ़, बाढ़, कीट और रोग, भूस्खलन, प्राकृतिक आग और बिजली, तूफान, बवंडर, चक्रवात, तूफान, तूफान, तूफान और बवंडर !
  3. फसल के बाद का नुकसान: प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ( Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana ) में केवल उन फसलों के लिए फसल! से अधिकतम दो सप्ताह की अवधि तक Coverage उपलब्ध है ! जो चक्रवात और चक्रवाती बारिश और बेमौसम बारिश के खिलाफ कटाई के बाद फसल के बाद और सुखाने की स्थिति की अनुमति देते हैं !
    स्थानीयकृत आपदाएं: अधिसूचित क्षेत्र में व्यक्तिगत खेतों को प्रभावित करने वाले! ओलावृष्टि, भूस्खलन और बाढ़ के स्थानीय जोखिमों की घटना से होने वाली हानि/क्षति !

यह भी पढ़े :- PM Awas Yojana Latest Update : पीएम आवास योजना का लाभ लेने के लिए रखें इन बातों का ध्यान